BHOPAL NEWS- जनजातीय संग्रहालय महंगा हुआ, एक व्यक्ति का ₹110

भोपाल।
यदि कोई विद्यार्थी या व्यक्ति जनजातियों के बारे में जानना चाहता है तो सरकार को ऐसे व्यक्तियों और विद्यार्थियों को प्रोत्साहित करना चाहिए परंतु मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में हतोत्साहित किया जा रहा है। संग्रहालय में मोबाइल सहित एक व्यक्ति का प्रवेश ₹110 कर दिया गया है। विद्यार्थियों को फ्री प्रवेश के साथ खानपान भी दिया जाना चाहिए लेकिन प्रवेश शुल्क लिया जा रहा है। 

भोपाल जनजातीय संग्रहालय में मोबाइल सहित प्रवेश पर ₹110 शुल्क

मध्यप्रदेश की जनजातियों के जीवन, देशज ज्ञान, कला परंपरा और सौन्दर्यबोध पर एकाग्र स्थापित मध्यप्रदेश जनजातीय संग्रहालय में प्रवेश एवं फोटोग्राफी शुल्क में वृद्धि की गई है। शुल्क वृद्धि 1 जुलाई, 2022 से लागू होगी। भारतीय दर्शक (10 वर्ष से अधिक आयु) के लिए 20 रूपये, विदेशी दर्शक (10 वर्ष से अधिक आयु) के लिये 400 रूपये प्रवेश शुल्क होगा। इसी तरह फोटोग्राफी प्रति कैमरा/मोबाइल (अव्यवसायिक बिना स्टैण्ड, ट्रायपॉड, सेल्फीस्टिक) के लिए 100 रुपए शुल्क निश्चित किया गया है।

मध्यप्रदेश जनजातीय संग्रहालय में क्या देखने को मिलता है

संग्रहालय दोपहर 12 बजे से रात 8 बजे तक दर्शकों के लिए खुला रहता है। संग्रहालय की विभिन्न दीर्घाओं में मध्यप्रदेश के जनजातीय समुदायों के आवास के वास्तुगत, शिल्पगत और व्यवहारगत रूप प्रदर्शित हैं। संग्रहालय की 6 अलग-अलग दीर्घाओं में जनजातीय जीवन की झलक, उनके परिवेश, खेल, संस्कृति, देवलोक आदि देखने को मिलते हैं। प्रत्येक दीर्घा में जिज्ञासु और शोधार्थियों के लिए कियोस्क स्थापित किए गए हैं, जिससे हिंदी और अंग्रेजी में विस्तार से जाना-समझा जा सकता है।