MP NEWS- मैं अब सिर्फ टाइमपास रह गया हूं, ऐसी जिंदगी नहीं जी सकता- व्यापारी का सुसाइड नोट

उज्जैन।
साईंनाथ डेयरी संचालक कमलेश कलवानी की लाश उन्हीं की कार में साइंस कॉलेज के पास मिली। उसके साथ एक सुसाइड नोट भी मिला है। व्यापारी ने लिखा है कि मैं सही जिंदगी जीता था परंतु कुछ गलतियां हुई। अब मैं सिर्फ टाइमपास रह गया हूं। ऐसी जिंदगी नहीं जी सकता। 

कमलेश कलवानी का सुसाइड नोट
मैं बिना किसी के दबाव में यह कदम उठा रहा हूं। मुझे कुछ होता है तो उसका जिम्मेदार मैं खुद हूं। मैंने बचपन से राजशाही जिंदगी जी है, लेकिन अपनी गलतियों के कारण मैंने ऐसी जिंदगी कर ली है, जिसके कारण मैं खुद से नजर नहीं मिला पा रहा हूं। मैं अब सिर्फ टाइमपास रह गया हूं। मैं ऐसा जीवन नहीं जी सकता। पापा कहते हैं, जो ऐसा काम करता है उसे नर्क में भी जगह नहीं मिल सकती। मेरी जिंदगी नर्क से भी बदतर हो गई है। हो सके तो मुझे माफ करना मैं अच्छा पापा नहीं बन पाया...। 

पत्नी छोड़ कर चली गई थी, बेटे के साथ रहता था
पता चला है कि कमलेश की पत्नी उसे छोड़कर चली गई थी। तलाक के लिए कोर्ट में केस लगा दिया था। 8 साल का बेटा कमलेश के साथ रहता था। वैवाहिक जीवन के तनाव ने कमलेश की पूरी जिंदगी को प्रभावित किया था। शायद वह आत्मग्लानि में था और प्रायश्चित नहीं कर पा रहा था। मध्य प्रदेश की महत्वपूर्ण खबरों के लिए कृपया MP NEWS पर क्लिक करें.