CM शिवराज सिंह, लू के बाद भी दिल्ली पहुंचे, पढ़िए- कोर कमेटी में क्या-क्या हो सकता है- MP NEWS

भोपाल।
मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को कल लू लग गई थी। वह बीमार थे और उनके कुछ कार्यक्रम निरस्त कर दिए गए थे, लेकिन भारतीय जनता पार्टी की कोर कमेटी की बैठक में शामिल होने के लिए आज दिल्ली पहुंच गए हैं। शिवराज सिंह के कुर्सी से उतरने का इंतजार कर रहे नेताओं का मानना था कि दिल्ली वाली बैठक से किनारा करने के लिए शिवराज सिंह को लू लगी है।

MP NEWS- दिल्ली में मध्य प्रदेश भाजपा कोर कमेटी की बैठक

मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह की विजिट और उसके तत्काल बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एवं मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के बीच चर्चा के कारण मध्य प्रदेश में राजनीतिक माहौल पहले से ही गर्म था। इसी बीच राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कोर कमेटी की मीटिंग कॉल कर दी। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, प्रदेश अध्यक्ष विष्णु दत्त शर्मा, संगठन महामंत्री हितानंद शर्मा, गृह मंत्री डॉ नरोत्तम मिश्रा दिल्ली पहुंच चुके हैं। 

MP BJP NEWS- कोर कमेटी बैठक का एजेंडा

दिल्ली के सूत्रों का कहना है कि विधानसभा चुनाव 2023 के लिए कोर कमेटी की बैठक का आयोजन किया गया है। इस बैठक में चुनावी रणनीति को लेकर सभी नेताओं के बीच सैद्धांतिक सहमति बनाई जाएगी। डिसीजन लिया जाएगा कि 2023 का विधानसभा चुनाव किसके नाम पर और किन मुद्दों पर लड़ना है। मध्यप्रदेश में अपनी स्थिति को मजबूत करने के लिए संगठन और सत्ता में जो भी आवश्यक परिवर्तन जरूरी हों, किए जाएंगे। 

भोपाल के पत्रकारों का मानना है कि 
- जोबट विधायक सुलोचना रावत को महिला बाल विकास विभाग का मंत्री बनाया जा सकता है। 
- सिंधिया कोटे के कैबिनेट मंत्री गोविंद सिंह राजपूत से परिवहन विभाग या फिर राजस्व विभाग वापस लिया जा सकता है। 
- महिला बाल विकास विभाग और पीएचडी डिपार्टमेंट मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के पास है। दोनों विभागों में मंत्री की नियुक्ति की जाना है। 
- स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर प्रभु राम चौधरी और जनजातीय कल्याण मंत्री मीना सिंह को मंत्री पद से हटाया जा सकता है। 
- गौरीशंकर बिसेन को जनजाति है कल्याण मंत्री बनाया जा सकता है। 
मध्य प्रदेश की महत्वपूर्ण खबरों के लिए कृपया MP NEWS पर क्लिक करें.