MPPEB चेयरमैन सर, आउट ऑफ सिलेबस प्रश्नों पर आपत्ति कैसे दर्ज कराएं - BHOPAL ROJGAR SAMACHAR

Professional Examination Board, Bhopal
के चेयरमैन आईसीपी केसरी ने उम्मीदवारों को प्राथमिक शिक्षक पात्रता परीक्षा प्रक्रिया में शुचिता एवं पारदर्शिता की गारंटी दी है। उम्मीदवार सवाल कर रहे हैं कि जो प्रश्न आउट ऑफ सिलेबस आए थे उन पर आपत्ति कैसे दर्ज कराएं। एमपीपीईबी की ऑफिशल वेबसाइट पर कोई विकल्प ही नहीं है। 

MP TET-3 प्रश्नों पर आपत्ति के लिए प्रोफेशनल एग्जामिनेशन बोर्ड द्वारा निम्न विकल्प दिए गए हैं:- 

प्रश्न की संरचना गलत है। 
उत्तर के रूप में दिए गए विकल्पों में एक से अधिक विकल्प सही हैं। 
कोई विकल्प सही नहीं है। 
प्रश्न के अंग्रेजी एवं हिंदी अनुवाद में भिन्नता है, जिसके कारण दोनों के भिन्न-भिन्न अर्थ निकल रहे हैं और सही एक भी उत्तर प्राप्त नहीं हो रहा हो। 
कोई अन्य मुद्रण त्रुटि हुई हो जिससे सही उत्तर प्राप्त नहीं हो रहा है। 
कोई अन्य कारण जिससे एक से अधिक उत्तर प्राप्त हो रहे हैं। 

MP TET-3 सबसे ज्यादा प्रश्न आउट ऑफ सिलेबस आए हैं

उपरोक्त सभी विकल्पों में वह विकल्प नहीं है जिसकी डिमांड सबसे ज्यादा है। उम्मीदवारों ने दावा किया है कि मध्य प्रदेश प्राथमिक शिक्षक पात्रता परीक्षा वर्ग 3 में आउट ऑफ सिलेबस प्रश्न सबसे ज्यादा है। लोगों का कहना था कि पेपर पढ़ने के बाद यह समझ में नहीं आया कि यदि वर्ग 3 का पेपर है ऐसा होता है तो वर्ग 1 का पेपर क्या यूपीएससी के पेपर से ज्यादा कठिन था। 

MP TET-3 NEWS- कहीं यह सब कुछ साजिश का हिस्सा तो नहीं

लोग व्यापम के चेयरमैन से जवाब की उम्मीद करते हैं। वह चाहते हैं कि आउट ऑफ सिलेबस प्रश्नों को विलोपित कर दिया जाए। यदि ऐसा नहीं किया गया तो मामला हाईकोर्ट में चला जाएगा। कुछ लोगों का यह भी कहना है कि आउट ऑफ सिलेबस प्रश्न पूछना और उन पर आपत्ति के लिए विकल्प उपलब्ध ना कराना, एक साजिश का हिस्सा है। ताकि मामला हाईकोर्ट में चले जाए और पूरी नियुक्ति प्रक्रिया स्थगित हो जाए। उच्च शिक्षा, सरकारी और प्राइवेट नौकरी एवं करियर से जुड़ी खबरों और अपडेट के लिए कृपया MP Career News पर क्लिक करें.