MP NEWS - कमलनाथ ने मोर्चा छोड़ा, विधानसभा से पलायन कर गए, जनहित में संघर्ष से इनकार

भोपाल
। मध्यप्रदेश में एकमात्र विपक्षी दल कांग्रेस पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष एवं विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष कमलनाथ ने लोकतंत्र की लड़ाई में मोर्चा छोड़ दिया है। उन्होंने न केवल विधानसभा से पलायन किया बल्कि इसका ऐलान भी कर दिया। 

कमलनाथ अब विधानसभा में नहीं जाएंगे, उनके बयान के मायने 

सीएम शिवराज सिंह चौहान ने विधानसभा में कमलनाथ की अनुपस्थिति को लेकर सवाल उठाए थे। इसके जवाब में कमलनाथ के मीडिया कोऑर्डिनेटर नरेंद्र सलूजा ने 7 सेकंड का वीडियो जारी किया है। इसमें कमलनाथ कह रहे हैं कि शिवराज सिंह जी का झूठ सुनूँ, नाटक देखूँ, यह मुझे स्वीकार नही है। कमलनाथ के इस बयान का एकमात्र अर्थ यह है कि कमलनाथ ने घोषणा कर दी है कि जब तक विधानसभा में मुख्यमंत्री उनके अनुसार सच नहीं बोलेंगे और नाटक करना बंद नहीं करेंगे तब तक कमलनाथ विधानसभा में नहीं जाएंगे। 

कमलनाथ ने सच और लोकतंत्र की लड़ाई में मोर्चा छोड़ा

कमलनाथ के बयान का दूसरा अर्थ यह है कि उन्होंने सच और लोकतंत्र की लड़ाई में मोर्चा छोड़ दिया है जबकि नेता प्रतिपक्ष होने के नाते यह उनका कर्तव्य है। जनता की आवाज उठाने के लिए ही नेता प्रतिपक्ष के तौर पर उन्हें जनता के पैसों से सुविधाएं दी जाती हैं। सरकारी बंगला दिया गया है, अन्यथा अन्य विधायकों के साथ रह रहे होते। मध्य प्रदेश की महत्वपूर्ण खबरों के लिए कृपया mp news पर क्लिक करें.