BEST MOTIVATIONAL TIPS- टारगेट मैनेजमेंट, मंजिल पाने क्या करना चाहिए

Motivational Monday in Hindi 

शक्ति रावत। दोस्तों एक बडी पुरानी कहानी है। एक राजा अपने पडोसी राज्य को जीतना चाहता था, जो चारों तरफ से पानी से घिरा था। राजा जब भी वहां सेना भेजता वह हर बार हारकर लौट आती। तब उसके एक मंत्री ने सलाह दी कि जिन नावों से सेना वहां जाती है उन्हें सिपाहियों के किनारे पर उतरते ही जलवा दिया जाए। इस बार राजा की सेना जीतकर वापस लौटी। जब राजा ने मंत्री से इसका रहस्य पूछा तो उसने कहा सीधी बात है इस बार सिपाहियों के सामने कोई विकल्प नहीं था। या तो वे जीतते या फिर मारे जाते। यह विकल्प षब्द हमारी जिंदगी में बहुत कीमत का है। हमें पता ही नहीं कि हम जीवन में अहम लक्ष्यों से कई बार इसलिये चूक जाते हैं क्योंकि हमारे पास विकल्प मौजूद होता है। तो अगर लक्ष्य हासिल करना है तो सबसे पहले अपने विकल्प को आग लगा दीजिये। आज बात इसी पर।

Motivational quotes- मंजिल नहीं रास्ता बदलिए

यह हर दूसरे आदमी के साथ होता है। जब हम अपने लक्ष्य के लिए निकलते हैं तो स्वभाविक तौर पर परेषानियों एक के बाद एक सामने आतीं हैं। ऐसे में हममें से ज्यादातर लोग अपना लक्ष्य बदल देते हैं। जबकि जरूरत मंजिल नहीं बल्कि रास्ते को बदलने की होती है, तो जब भी अपना ल उक्ष्य हासिल करने में परेषानी महसूस हो उस समय अपने लक्ष्य को बदलने की नहीं बल्कि रास्ते को बदलने की सोचिये। लक्ष्य को बदलने का विकल्प मन से हटा दीजिये।

Inspirational quotes- ध्यान सिर्फ एक पर

हम देखादेखी लक्ष्य और सपने तो बडे-बडे बना लेते हैं, लेकिन समस्या यह है कि उन पर फोकस बहुत कम लोग कर पाते हैं। अपनी मंजिल से भटक जाने का यह सबसे आम कारण है। क्योंकि लक्ष्य तय करने के बाद भी मन यहां-वहां भटकता रहता है। कभी सोचते हैं यह करें कभी सोचते हैं वह करें। ऐसे में अपने मूल लक्ष्य पर ध्यान देना मुकिष्ल होता है। याद रहे जब तक आपके पास विकल्प मौजूद हैं। आप एक बात पर ध्यान नहीं लगा पाएंगे और फेल होते रहेंगे। इसलिये ध्यान सिर्फ एक पर दुनियाभर के सफल लोग इस मूलमंत्र को मानकर ही आगे बढते हैं।

Positive Thoughts Hindi- मैदान में डटे रहिये

ध्यान रखें। जीवन में आपका सफल या असफल होना सिर्फ एक बात पर टिका होगा। कि आप अपने लक्ष्य या सपने को लेकर कितने संजीदा हैं, और कब तक मैदान में डटे रह सकते हैं। आपको षायद भरोसा ना हो कि 99 प्रतिषत लोग उस समय पीछे हट जाते हैं, जबकि वे अपने लक्ष्य के एकदम करीब होते हैं। जिंदगी में कई बार ऐसा होगा जबकि आपको लगेगा कि आपका लक्ष्य आपसे दूर हो गया है या फिर आगे का रास्ता नजर ही नहीं आ रहा है। ऐसे हालात में बस मैदान पर डटे रहिये। डटे रहना ही रास्ता बन जाएगा उस मंजिल का जहां आप पहुंचना चाहते हैं। ✒ लेखक मोटीवेषनल स्पीकर और लाइफ मैनेजमेंट कोच हैं।