व्यापम घोटाला 2022 खुलासा- सर्वर रूम में कौन बैठा था, जहां से स्क्रीन शॉट आउट हुए - MP TET-3 NEWS

भोपाल। MP TET वर्ग 3 पेपर के स्क्रीन शॉट आउट मामले में जांच पूरी हो गई है और खुलासा हुआ है कि सागर के जिस कॉलेज से स्क्रीन शॉट आउट हुए वह परिवहन मंत्री गोविंद सिंह राजपूत के बेटे का कॉलेज है और साईं एडुकेयर कंपनी द्वारा परीक्षा कराने के लिए किराए पर लिया गया था। MPPEB चेयरमैन आईबीसी केसरी का कहना है कि हमने परीक्षा कक्ष के सीसीटीवी रिकॉर्ड देखें, कोई गड़बड़ी नहीं मिली लेकिन बड़ा सवाल यह है कि क्या कंप्यूटर सर्वर रूम के सीसीटीवी रिकॉर्ड देखें। सबसे बड़ा सवाल यह है कि वहां पर कौन बैठा था। 

शक के दायरे में परिवहन मंत्री और कंपनी दोनों हैं

PEB सूत्रों ने खुलासा करते हुए बताया कि यह स्क्रीन शॉट​​​​​ सागर स्थित ज्ञानवीर इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट एंड साइंसेस सेंटर से जारी हुआ है। इसकी पुष्टि भी हो गई है।यह कॉलेज प्रदेश के मंत्री गोविंद सिंह राजपूत के बेटे का है लेकिन ऑनलाइन प्राथमिक शिक्षक पात्रता परीक्षा के लिए साईं एडुकेयर ने अनुबंध पर लिया था। कॉलेज का प्रबंधन देखने वाले मनीष जैन ने कहा कि हमने सिर्फ कॉलेज किराए पर दिया। साईं एडुकेयर ने कॉलेज किराए पर लिया था। उन्होंने ही सारा संचालन किया है इसलिए उन्हें ही पता होगा कि स्क्रीनशॉट किसने और कहां से आउट किए हैं।

केवल कंप्यूटर सर्वर रूम से ही स्क्रीनशॉट लिए जा सकते थे 

तकनीकी विशेषज्ञों ने बताया कि PEB परीक्षा के दौरान परीक्षा केंद्र पर मोबाइल जैमर लगाया जाता है लेकिन, परीक्षा केंद्र के सर्वर रूम में लैन नेटवर्क के मार्फत इंटरनेट कनेक्टिविटी रहती है। इस कारण ऐसी आशंका जताई जा रही है कि प्राथमिक शिक्षक पात्रता परीक्षा के पर्चे का स्क्रीन शॉट सर्वर रूम में संबंधित छात्र की स्क्रीन ओपन कर मोबाइल पर किसी दूसरे व्यक्ति को भेजा गया है। मध्य प्रदेश की महत्वपूर्ण खबरों के लिए कृपया mp news पर क्लिक करें.