शत्रुओं पर विजय और लोकप्रियता प्राप्ति हेतु महाशिवरात्रि के दिन विशेष परिघ योग- mahashivratri 2022

भोपाल।
ज्योतिषाचार्य पंडित राधेश्याम अवस्थी, पंडित सौरभ दुबे और पंडित प्रवीण मोहन शर्मा ने परामर्श दिया है कि महाशिवरात्रि के दिन शत्रु पर विजय पाने के लिए विशेष परिघ योग में अनुष्ठान किया जाना चाहिए। ऐसा करने से भगवान शिव की कृपा से शत्रुओं पर विजय प्राप्त होती है। यह एक दुर्लभ योग है और महाशिवरात्रि के दिन पड़ने पर इसका महत्व बढ़ जाता है।

लोकप्रियता प्राप्त करने महाशिवरात्रि पर विशेष उपाय

ज्योतिष आचार्य ने बताया कि यदि कोई लोकप्रियता प्राप्त करना चाहता है तो उसे महाशिवरात्रि के दिन भगवान शिव की विधिपूर्वक षोडशोपचार पूजा रात्रिपर्यन्त करना चाहिए। विधिपूर्वक षोडशोपचार के परिणाम हमेशा प्राप्त होते हैं। षोडशोपचार पूजा कभी भी व्यर्थ नहीं जाती। षोडशोपचार करने से यश और कीर्ति में वृद्धि होती है। 

महाशिवरात्रि के दिन परिघ योग का टाइम

ज्‍योतिषियों के अनुसार इस साल महाशिवरात्रि यानी फाल्गुन माह के कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी तिथि 28 फरवरी की रात 2:01 बजे से शुरू हो रही है, जो एक मार्च को देर रात 12:36 बजे तक है। महाशिवरात्रि के दिन दो शुभ योग बन रहे हैं। महाशिवरात्रि को परिघ योग दिन में 11 बजकर 29 मिनट तक है। उसके बाद से शिव योग प्रारंभ हो जाएगा। यह दो मार्च को सुबह 8 बजकर 29 मिनट तक रहेगा। धर्म और परंपराओं से संबंधित समाचारों एवं जानकारियों के लिए कृपया Hindi Jyotish Page पर क्लिक करें