INDORE NEWS- हौंडा कंपनी का डीलर ही शहर में एक्टिवा स्कूटर चुरा रहा था, पुलिस का दावा

इंदौर
। तुकोगंज थाना पुलिस ने बंद हो चुके हौंडा टू व्हीलर शोरूम के मालिक अजय चौरसिया उम्र 45 साल को शहर भर में एक्टिवा स्कूटर चोरी के मामले में गिरफ्तार किया है। पुलिस ने दावा किया है कि अजय चौरसिया कई स्कूटर चोरी की है। उसके पास एक्टिवा की मास्टर चाबी थी इसलिए वह हमेशा एक्टिवा स्कूटर ही चोरी करता था। अजय चौरसिया का कहना है कि वह 40 लाख रुपए की धोखाधड़ी का शिकार हुआ। पुलिस ने उसकी कोई मदद नहीं की। परिवार पालने के लिए चोरी करने के अलावा उसके पास कोई रास्ता नहीं था।

पुलिस के मुताबिक आरोपी अजय चौरसिया ने 2013 में फाइन मोटर्स नाम से शो-रूम खोला था। जिसमें हौंडा कंपनी की टू व्हीलर्स बेचे जाते थे। हौंडा की डीलरशिप और शोरूम खोलने के लिए अजय चौरसिया ने अपनी जमा पूंजी के अलावा 1500000 रुपए लोन भी लिया था। सन 2017 तक उसका शोरूम चलता रहा। 

सन 2017 में आरा फाइनेंस कंपनी ने अजय चौरसिया के शोरूम के साथ मिलकर एक फाइनेंस स्कीम लॉन्च की। इसके तहत जीरो डाउन पेमेंट पर हौंडा कंपनी के टू व्हीलर फाइनेंस किए जा रहे थे। इस स्कीम के कारण अजय चौरसिया के शोरूम से 50 गाड़ियों की बिक्री हुई। अजय चौरसिया ने हौंडा कंपनी को सभी गाड़ियों का फुल पेमेंट कर दिया था, लेकिन फाइनेंस कंपनी ने अजय चौरसिया को ग्राहकों से मिला किस्तों का पैसा नहीं दिया। तनाव बढ़ा तो कंपनी ऑफिस बंद करके भाग गई। 

अजय चौरसिया ने पुलिस को बताया कि इस धोखाधड़ी में उसे करीब ₹40000 का नुकसान हो गया। तुकोगंज थाने में उसने फाइनेंस कंपनी के खिलाफ मामला भी दर्ज करवाया था, लेकिन कोई फायदा नहीं हुआ। अजय चौरसिया ने बताया कि परिवार में उसकी दो बेटियां हैं और पिता लम्बे समय से कैंसर से पीड़ित हैं। लगातार कर्जा होने के बाद परिवार की आर्थिक स्थिति ठीक नहीं हुई। 

अजय ने बताया कि उसके पास अब कोई रास्ता नहीं था। होंडा कंपनी का शोरूम खोलने से पहले अजय चौरसिया टू व्हीलर मैकेनिक था। मैकेनिक रहते हुए अजय ने अलग - अलग मॉडल की एक्टिवा और दूसरी होंडा बाइक की मास्टर चाबी बनाना सीखा था। उसने अपने इसी हुनर का इस्तेमाल किया और होंडा कंपनी की एक्टिवा स्कूटर चोरी करना शुरू कर दिया। चुराए गए एक्टिवा स्कूटर को वह लगभग ₹20000 में बेच देता था। इंदौर की महत्वपूर्ण खबरों के लिए कृपया indore news पर क्लिक करें.