GWALIOR NEWS- कॉलेज संचालक ने लव मैरिज करने 1 करोड़ में पत्नी से तलाक लिया

ग्वालियर।
शहर के एक प्रतिष्ठित प्राइवेट कॉलेज के 50 वर्षीय संचालक ने अपनी असिस्टेंट से लव मैरिज करने के लिए धर्म पत्नी से तलाक लिया। बदले में उसे 1 करोड़ रुपए की संपत्ति एवं धन दिया गया। बताया गया कि पिछले 4 साल से कॉलेज के संचालक की लव स्टोरी चल रही है जबकि इससे पहले उनका दांपत्य जीवन काफी सुखी था।

ग्वालियर शहर में स्थित एक प्राइवेट कॉलेज के संचालक का विवाह 1996 में हिंदू रीति रिवाज से हुआ था। इनके पास एक बेटा व बेटी थी। पति पत्नी के बीच 10 साल तक संबंध अच्छे रहे, लेकिन इसी बीच कॉलेज संचालक का अपनी असिस्टेंट के साथ अफेयर शुरू हो गया। जब यह बात धर्मपत्नी को पता चली तो घर में विवाद होने लगा। इसी विवाद के चलते कॉलेज संचालक की पत्नी घर छोड़ दिया और सिटी सेंटर में रहने लगी। बच्चों को भी अपने साथ ले गई। 4 साल तक पति पत्नी के बीच कोई संबंध नहीं रहा। 

जब दोनों पक्षों और परिवारों के सभी प्रयास विफल हो गए तो तय किया गया कि आपसी सहमति से तलाक ले लिया जाएगा। 2020 में कुटुंब न्यायालय में तलाक का दावा पेश किया। वर्तमान में पति की उम्र 50 साल है, जबकि पत्नी की उम्र 47 वर्ष है। पहली गवाही के बाद कोर्ट में अंतिम गवाही हो चुकी है। अंतिम गवाही में तलाक को सहमति दे दी गई है। अब कोर्ट से तलाक की डिक्री आदेश पारित होना है।

तलाक के नियम एवं शर्तें निर्धारित

- आपसी सहमति से तलाक का आवेदन पेश किया था, उसमें जबलपुर के चार फ्लैट पत्नी को देने का तय हुआ। सहमति की इस शर्त को बदल दिया गया। इसके बदले में नगदी गई है।
- पत्नी को सिटी सेंटर में रहने के लिए एक लक्जरी फ्लैट दिया गया है। स्त्री धन (आभूषण) पर पत्नी का अधिकार रहा है।
- दोनों से एक बेटा व बेटी है। बेटा-बेटी पिता के साथ रहना चाहते हैं तो उन्हें जाने से नहीं रोका जाएगा।
- पत्नी अब कोई भी कानूनी दावा पेश नहीं करेगी।
- बच्चों के भरण पोषण की जिम्मेदारी पति ने ली है।
ग्वालियर की महत्वपूर्ण खबरों के लिए कृपया GWALIOR NEWS पर क्लिक करें.