मक्खन का पेड़, जिसके पत्ते कटोरी और चम्मच के समान दिखते हैं- GK in Hindi

अपन सभी जानते हैं कि मक्खन यानी BUTTER दूध से बनता है परंतु भारत की देवभूमि उत्तराखंड में एक वृक्ष की प्रजाति ऐसी भी है जिसे मक्खन का पेड़ कहा जाता है। इसके पत्तों में से मक्खन की तरह दिखाई देने वाला एक पदार्थ निकलता है। वनस्पति के वैज्ञानिकों का कहना है कि यह एक दुर्लभ पेड़ है और पर्यावरण के लिए बेहद लाभकारी है।

उत्तराखंड में इस पेड़ को माखन की कटोरी कहा जाता है। वनस्पति वैज्ञानिकों के अनुसार यह वट वृक्ष की एक दुर्लभ प्रजाति है, जो पहाड़ों में पाई जाती है। उत्तराखंड राज्य की सीमा में इस प्रजाति के वृक्षों की संख्या सबसे ज्यादा है। मक्खन के पेड़ का बोटेनिकल नाम- Ficus benghalensis (फिकस बेंघालेंसिस) है। इस पेड़ के पत्तों को तोड़ने पर एक विशेष प्रकार का पदार्थ निकलता है। यह पदार्थ बिल्कुल वैसे ही मक्खन की तरह दिखाई देता है, जैसा कि वृंदावन में मिट्टी के बर्तनों में बनाया जाता था। 

एक पेड़ जिसके पत्ते कटोरी और चम्मच जैसे आकार के होते हैं

वट वृक्ष की इस विशेष प्रजाति की दूसरी खास बात यह है कि इसके पत्ते दूसरे पेड़ों की तरह सपाट नहीं होते। जब पत्ते छोटे होते हैं तो चम्मच जैसे आकार के होते हैं और जब बड़े हो जाते हैं तो कटोरी जैसा आकार ले लेते हैं। डॉ विश्वराज लाल, असिस्टेंट प्रोफेसर, बायोटेक, जमशेदपुर वीमेंस कॉलेज का कहना है कि यह पेड़, अपेक्षाकृत अधिक कार्बन डाइऑक्साइड ग्रहण करता है और ऑक्सीजन छोड़ता है। 

भगवान श्रीकृष्ण से जुड़ी है एक कथा 

Ficus benghalensis (फिकस बेंघालेंसिस) की कहानी भगवान श्रीकृष्ण से जोड़कर सुनाई जाती है। उत्तरकांड के लोग बताते हैं कि भगवान श्री कृष्ण मक्खन को चुराकर अपनी मैया की नजरों से बचाने के लिए इसी वटवृक्ष में छुपा कर रख देते थे। वह इस वृक्ष के पत्तों की कटोरी बनाकर और छोटे पत्तों से चम्मच बनाकर मक्खन का सेवन करते थे। श्री कृष्ण के प्रेम के कारण इस वृक्ष के पत्ते हमेशा के लिए कटोरी और चम्मच जैसे आकार के हो गए हैं। पत्तों को तोड़ने पर आज भी भगवान श्री कृष्ण द्वारा छुपाया गया मक्खन निकलता है। Notice: this is the copyright protected post. do not try to copy of this article 
(इसी प्रकार की मजेदार जानकारियों के लिए जनरल नॉलेज पर क्लिक करें) 
:- यदि आपके पास भी हैं कोई मजेदार एवं आमजनों के लिए उपयोगी जानकारी तो कृपया हमें ईमेल करें। editorbhopalsamachar@gmail.com
(general knowledge in hindi, gk questions, gk questions in hindi, gk in hindi,  general knowledge questions with answers, gk questions for kids, )