2 जजों की सेवाएं समाप्त, तीसरे का इस्तीफा मंजूर- GWALIOR HC NEWS

ग्वालियर।
मध्य प्रदेश उच्च न्यायालय की फुल कोर्ट मीटिंग में जिलों में पदस्थ दो अपर सत्र न्यायाधीशों की सेवाएं समाप्त कर दी गई जबकि तीसरे न्यायाधीश का इस्तीफा मंजूर कर लिया गया। इनमें से एक न्यायाधीश को कदाचरण के मामले में प्रक्रिया पूरी होने के बाद बर्खास्त किया गया है। 

जानकारी के अनुसार लीना दीक्षित नरसिंहपुर जिले में अपर सत्र न्यायाधीश के पद पर कार्यरत थीं। परवीक्षा अवधि में उनका कार्य संतोषजनक नहीं था। इसके चलते इनकी सेवाएं समाप्त की गई हैं। दीक्षित ने वकालत की शुरुआत ग्वालियर से की थी। राम कुमार डेहरिया दतिया जिले के सेंवढ़ा में अपर सत्र न्यायाधीश पद पर कार्यरत थे। इन्हें कदाचरण के लिए जिम्मेदार माना गया है। इसके चलते इन्हें बर्खास्त किया गया है। 

राजगढ़ जिले के ब्यावरा में द्वितीय व्यवहार न्यायाधीश संजय धाकड़ ने अपना त्याग पत्र दिया था, जिसे 29 दिसंबर 2021 से स्वीकार कर लिया गया। इसके अलावा मध्य प्रदेश हाई कोर्ट के ग्वालियर खंडपीठ के प्रिसिंपल रजिस्ट्रार विमल प्रकाश शुक्ला ने ऐच्छिक सेवानिवृत्ति ली है। हाई कोर्ट ने 20 जनवरी 2022 से एच्छिक सेवानिवृत्ति को स्वीकार कर लिया है। शुक्ला ने सेवानिवृत्ति के लिए तीन महीने पहले आवेदन किया था।ग्वालियर की महत्वपूर्ण खबरों के लिए कृपया GWALIOR NEWS पर क्लिक करें


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here