JABALPUR में दो डॉक्टरों के खिलाफ FIR के आदेश, इलाज में लापरवाही का मामला

जबलपुर
। डॉक्टरों को इलाज में लापरवाही करना अब भारी पड़ेगा। पहले पीड़ित पक्ष हंगामा करता था तो डॉक्टर पुलिस बुलाकर उसे गिरफ्तार करवा देते थे परंतु आप लोग कानून समझने लगे हैं और न्याय के लिए कोर्ट की चौखट पर जाने लगे हैं। जबलपुर के 2 सरकारी डॉक्टरों के खिलाफ इलाज में लापरवाही के आरोप में आपराधिक प्रकरण दर्ज करने के आदेश जारी हुए हैं।

डॉ विनीता उप्पल और डॉक्टर आशीष राज के खिलाफ FIR के आदेश

जबलपुर जिला न्यायालय में प्रथम श्रेणी न्यायिक दंडाधिकारी किरण मलिक की कोर्ट ने इलाज में लापरवाही से महिला की मृत्यु होने के आरोप में सिविल अस्पताल रांझी के दो चिकित्सकों डा. विनीता उप्पल और डा. आशीष राज के खिलाफ आपराधिक प्रकरण दर्ज करने के निर्देश दिए। दोनों डाक्टरों को समन जारी कर उन्हें 15 फरवरी को हाजिर होने के निर्देश भी दिए।

ऑपरेशन के दौरान गलत नस काट दी थी, इसलिए मरीज की मौत हुई

शिवानी बाथरे ने कोर्ट में परिवाद दायर कर बताया कि उसकी मां अनीता बाथरे का सिविल अस्पताल रांझी में टीटी का आपरेशन हुआ था। डा. उप्पल और डा. राज ने आपरेशन किया था। आरोप है कि चिकित्सकों ने गलत नस काटकर आपरेशन कर दिया जिससे अनीता का बहुत खून बह गया। आपरेशन के दौरान ही मरीज की मौत हो गई। परिवादी ने कई जगह शिकायत की, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई। 

इलाज में लापरवाही से मरीज की मौत पर डॉक्टरों के खिलाफ धारा 304-ए

शिवानी ने हाई कोर्ट में याचिका दायर की और गलत आपरेशन करने वाले डाक्टरों पर मामला दर्ज करवाने की मांग की। हाई कोर्ट ने सक्षम अदालत में परिवाद दायर करने कहा। इसके बाद शिवानी ने जिला अदालत में परिवाद दायर किया। प्रारंभिक सुनवाई के बाद कोर्ट ने दोनों डाक्टरों के खिलाफ भादंवि की धारा 304-ए के तहत आपराधिक प्रकरण पंजीबद्ध करने के निर्देश दिए। परिवादी की ओर से अधिवक्ता केके अग्निहोत्री ने पक्ष रखा। जबलपुर की महत्वपूर्ण खबरों के लिए कृपया jabalpur news पर क्लिक करें.


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here