आंखों में नीचे की तरफ छोटा सा छेद क्यों होता है- GK in Hindi

ज्यादातर लोग ध्यान नहीं देते परंतु हर व्यक्ति की आंखों में नीचे की तरफ बहुत बारीक सा छेद होता है। इसे हम अपनी आंखों से देख सकते हैं। बिल्कुल ऐसा लगता है जैसे किसी ने सुई या ऑलपीन से छेद कर दिया है। कुछ लोग इसे देखकर घबरा जाते हैं। उन्हें लगता है कि किसी कीड़े ने बिल बना लिया है। वह आंख के अंदर चला गया है। आइए जानते हैं यह छोटा सा छेद क्यों होता है:-

टियर पॉइंट का वैज्ञानिक नाम क्या है

कुछ लोगों में इसे लेकर कन्फ्यूजन की स्थिति है। वह दावा करते हैं कि इस छोटे से छेद से ही आंसू बाहर निकलते हैं लेकिन यह जानकारी गलत है। आंख में नीचे वाली पलक पर नाक के थोड़े पास इस छोटे से छेद को सामान्य बोलचाल की भाषा में टियर पॉइंट कहा जाता है। इसका वैज्ञानिक नाम lacrimal punctum है।

lacrimal punctum यानी टियर पॉइंट क्या काम करता है

जब आंखों की ऊपर वाली पलक से आंसुओं का बनना शुरू होता है तो नीचे वाली परत पर डियर टियर एक्टिव हो जाता है। इसके कारण नीचे वाली पलक के आकार में मामूली सा परिवर्तन आता है और इसके कारण आप के आंसू आपकी नाक के आस पास से होकर बहते हैं। lacrimal punctum के कारण ही आंखों के आंसू झरने की तरह नहीं बहते बल्कि अपना एक रास्ता बना लेते हैं। - (इसी प्रकार की मजेदार जानकारियों के लिए जनरल नॉलेज पर क्लिक करें) Notice: this is the copyright protected post. do not try to copy of this article (general knowledge in hindi, gk questions, gk questions in hindi, gk in hindi,  general knowledge questions with answers, gk questions for kids, ) :- यदि आपके पास भी हैं कोई मजेदार एवं आमजनों के लिए उपयोगी जानकारी तो कृपया हमें ईमेल करें। editorbhopalsamachar@gmail.com