CM Sir, सिर्फ आरजीपीवी ही क्यों, CORONA का खतरा तो सभी स्कूल-कॉलेजों में हैं - Kuhla Khat

माननीय मुख्यमंत्री महोदय
, स्टूडेंट्स के प्रोटेस्ट करने के बाद आज आपके द्वारा घोषित किया गया कि राजीव गांधी प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय में आयोजित परीक्षाएं ऑफलाइन नहीं बल्कि ऑनलाइन होंगी। आप हजारों हजार स्टूडेंट्स के धन्यवाद के अधिकारी हैं, आपने संवेदनशीलता का परिचय दिया। लेकिन हम निवेदन करना चाहते हैं कि कोरोनावायरस के संक्रमण का खतरा केवल आरजीपीवी में नहीं है मध्य प्रदेश के सभी स्कूल और कॉलेजों में भी है। 

आपकी कैबिनेट के सदस्य एवं मध्य प्रदेश के उच्च शिक्षा मंत्री डॉ मोहन सिंह यादव ने ऐलान किया है कि मध्य प्रदेश के सभी 1301 सरकारी एवं प्राइवेट कॉलेजों में 100% उपस्थिति के साथ नियमित कक्षाओं का संचालन होगा और ऑफलाइन परीक्षाओं का आयोजन होगा। उनके आदेश के अनुसार परीक्षाओं की तैयारियां चल रही हैं। सभी स्टूडेंट चाहते हैं कि परीक्षाएं ऑनलाइन हो। स्टूडेंट्स के पेरेंट्स ऑफलाइन परीक्षा के पक्ष में नहीं है। 

कक्षा 9 से लेकर कक्षा 12 तक हाई स्कूल एवं हायर सेकेंडरी स्कूलों में भी ऑफलाइन परीक्षाओं का आयोजन हो रहा है। स्कूलों की तरफ से सर्कुलर जारी किए जा चुके हैं। प्राइवेट स्कूल मैनेजमेंट का कहना है कि जब तक स्कूल शिक्षा विभाग की ओर से लिखित आदेश नहीं मिल जाता ऑनलाइन परीक्षाओं का आयोजन नहीं किया जाएगा। हम उम्मीद करते हैं कि आप सभी हाई स्कूल, हाई सेकेंडरी स्कूल एवं विश्वविद्यालयों के लिए समान रूप से आदेश जारी करेंगे। लोकतंत्र का मतलब यह तो नहीं होता कि हर क्लास के बच्चों को न्याय पाने के लिए प्रोटेस्ट करना पड़े। ध्रुव जगन्नाथ मिश्रा के साथ (हम मध्य प्रदेश के स्टूडेंट्स)

इससे पूर्व प्रकाशित हुए खुले खत पढ़ने के लिए कृपया Khula Khat पर क्लिक करें. खुला खत एक ओपन प्लेटफार्म है। यहां मध्य प्रदेश के सभी जागरूक नागरिक सरकारी नीतियों की समीक्षा करते हैं। सुझाव देते हैं एवं समस्याओं की जानकारी देते हैं। यदि आपके पास भी है कुछ ऐसा जो मध्य प्रदेश के हित में हो, तो कृपया लिख भेजिए हमारा ई-पता है:- editorbhopalsamachar@gmail.com