GWALIOR NEWS- मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर को नगर निगम का खुला चैलेंज, पब्लिक टॉयलेट की दीवार पर लिखवा दिया

ग्वालियर
। मध्य प्रदेश के नगर निगम ग्वालियर में हाई लेवल पॉलिटिक्स जारी है। ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने दबाव बनाने के लिए सबके सामने अप्पर आयुक्त हो खरी खोटी सुनाते हुए कहा था कि मैं हर प्रकार से सक्षम हूं। नतीजा जिस टॉयलेट के लिए ऊर्जा मंत्री भड़क रहे थे अपार आयुक्त ने उसे एक्सपायर घोषित कर दिया।

मामला क्या है, मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर क्यों भड़क गए थे

मामला न्यू रेशममील स्थित सार्वजनिक शौचालय का है। दिनांक 1 नवंबर मध्य प्रदेश के स्थापना दिवस के अवसर पर डेंगू फैलाने वाले अक्षरों को मारते हुए ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर इस पब्लिक टॉयलेट तक पहुंचे। यहां गंदगी देखते ही अचानक भड़क उठे। सामने मौजूद नगर निगम के अपर आयुक्त को खूब खरी-खोटी सुनाई। यहां तक कह डाला कि मैं हर प्रकार से सक्षम हूं। इस लाइन के साथ ही समझ में आ गया कि मामला टॉयलेट का नहीं कुछ और है। ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर नगर निगम पर दबाव बना रहे हैं।

नगर निगम का ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर को जवाब 

अपार आयुक्त ने कोई बयान नहीं दिया लेकिन दो दिन बाद जिस टॉयलेट की सफाई के नाम पर ऊर्जा मंत्री ने हाई वोल्टेज ड्रामा किया था, नगर निगम ने उस सार्वजनिक शौचालय की दीवार पर 'अनुपयोगी शौचालय' लिखवा दिया। यानी आज के बाद कोई भी व्यक्ति इस शौचालय की सफाई के लिए नहीं कह सकता। 

देखते हैं प्रद्युम्न सिंह तोमर कितने सक्षम है 

ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने कहा था कि मैं हर प्रकार से सक्षम हूं। नगर निगम ने पब्लिक टॉयलेट पर 'अनुपयोगी शौचालय' लिखवा कर उन्हें खुला चैलेंज दिया है। अब देखना यह है कि मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर कितने सक्षम है और क्या कर पाते हैं। प्रश्न तो प्रतिष्ठा का बन गया है। ग्वालियर के महत्वपूर्ण समाचारों के लिए कृपया GWALIOR NEWS पर क्लिक करें


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here