MP CORONA NEWS- 12 जिलों में संक्रमण, 3 जिलों की स्थिति चिंताजनक

भोपाल
। मध्यप्रदेश में कोरोनावायरस का संक्रमण एक बार फिर बढ़ने लगा है। कल 27 पॉजिटिव मिले थे आज 20 नागरिक संक्रमित पाए गए हैं। 1 सप्ताह में 104 लोग कोरोनावायरस का शिकार हो गए। कुल 12 जिलों में कोरोनावायरस का संक्रमण दर्ज किया गया है। इनमें से 3 जिले भोपाल, इंदौर और धार की स्थिति चिंताजनक है।

मध्यप्रदेश में CORONA शुरुआत भोपाल-इंदौर से, जैसे पिछली बार हुई थी 

संक्रमण की शुरुआत ठीक उसी प्रकार हो रही है जैसी पिछली बार हुई थी। भोपाल और इंदौर में संक्रमित नागरिकों की संख्या सबसे ज्यादा मिल रही है। पिछले 24 घंटे में भोपाल में 11 और इंदौर में 8 लोग पॉजिटिव पाई गई हैं। इंदौर में दो बच्चे भी संक्रमित हुए हैं। इसके 1 दिन पहले 27 लोग पॉजिटिव पाए गए थे। पिछले 1 सप्ताह में 104 लोग पॉजिटिव मिल चुके हैं। इंदौर में कोरोना मरीजों की जीनोम सीक्वेंसिंग में AY-4 वैरिंएट मिलने से चिंता बढ़ रही है क्योंकि यह बहुत तेजी से लोगों को अपना शिकार बनाता है। 

BHOPAL NEWS- वर्धमान ग्रीन सिटी में संक्रमण का खतरा 

राजधानी भोपाल की वर्धमान ग्रीन सिटी में संक्रमण का खतरा बढ़ गया है। यहां एक ही परिवार के 5 लोग संक्रमित मिले उसके बाद उनके पड़ोसी भी पॉजिटिव पाए गए। कॉन्ट्रैक्ट रेसिंग के दौरान दो लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। एक 30 वर्षीय महिला जिसको वैक्सीन के दोनों डोज लग चुके हैं, पॉजिटिव मिली है। 58 वर्षीय व्यक्ति वैक्सीन के पहले डोज के बाद संक्रमित हो गए। टीटी नगर में 21 वर्षीय युवक को दोनों डोज लग चुके थे। चिंता वाली बात यह है कि ज्यादातर लोगों की ट्रैवल हिस्ट्री नहीं है यानी यह लोग किसी दूसरे व्यक्ति से संक्रमित हुए हैं। वह दूसरे व्यक्ति कहां है, अभी पता नहीं चल पाया है।

INDORE NEWS- 8 पॉजिटिव में से 7 को दोनों डोज लग चुके हैं

इंदौर में कोरोना मरीजों की जीनोम सीक्वेंसिंग में AY-4 वैरिंएट मिलने से चिंता बढ़ रही है। मंगलवार को यहां आठ नागरिक संक्रमित मिले इनमें से सात ऐसे हैं जिन्हें वैक्सीन के दोनों टीके लग चुके हैं। संक्रमित नागरिकों की सूची में एक 2 साल का बच्चा भी है। एक व्यक्ति भोपाल से इंदौर आया था और दूसरा जयपुर से। 

मध्य प्रदेश के 3 जिलों में CORONA हाई अलर्ट की जरूरत

प्रदेश में पिछले 8 दिनों में 11 जिलों में 104 नए पॉजिटिव मिले हैं। इसमें सबसे ज्यादा भोपाल में 36, इंदौर में 28, धार में 14, नरसिंहपुर में 7, होशंगाबाद में 6, सागर में 5, जबलपुर और छिंदवाड़ा में 2-2 संक्रमित मिले हैं। इसके अलावा सिंगरौली, नीमच, रतलाम, राजगढ़ में 1-1 मामले आए हैं। 

प्रशासनिक सख्ती जरूरी, अपील से काम नहीं चलेगा 

मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल, कारपोरेट सिटी इंदौर और धार में संक्रमण को रोकने के लिए प्रशासनिक सख्ती जरूरी हो गई है। यदि भीड़ को तत्काल नहीं रोका गया तो त्यौहार के बाद स्थिति को नियंत्रित करने में परेशानी आ सकती है। विशेषज्ञों का कहना है कि AY-4 वैरिंएट से संक्रमित व्यक्ति से औसत 25 व्यक्तियों में वायरस ट्रांसफर होता है। इनमें से जितने लोगों की इम्यूनिटी अच्छी होती है वह लोग सर्दी-जुकाम, खांसी से पीड़ित होकर स्वस्थ हो जाते हैं और बाकी लोगों को बेड रेस्ट पर जाना होता है। ऐसे लोगों को यदि क्वारंटाइन नहीं किया गया तो संक्रमण की दर तेजी से बढ़ सकती है।


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here