जीवन में आगे बढऩा है, तो बार-बार खुद से पूछिये दो सवाल- Goal management

शक्ति रावत।
आपको एक छोटा सा प्रयोग करने के लिए देता हूं, अपने आसपास के पांच लोगों से आज पूछिये कि वे क्या कर रहे हैं, और क्यों कर रहे  हैं, आप हैरान होंगे कि ज्यादातर लोग आपके सवाल का जबाव नहीं दे पाएंगे। ऐसा इसलिये क्योंकि सौ में से अनठानवे लोगों को पता ही नहीं है, कि उन्हें आखिर जिंदगी में क्या करना है। देखने में यह छोटी सी बात आपका पूरा भविष्य तय कर देती है, ज्यादातर लोग जो भी कर रहे हैं, उन्हें पता ही नहीं कि क्यों कर रहे हैं, और इससे क्या होगा। इसलिये गोल मैनेजमेंट का अहम सबक है, कि जीवन में अगर आपको आगे बढऩा है तो खुद से रोज पूछिये, बार-बार पूछिये क्या और क्यों। मतलब आप क्या कर रहे हैं, और क्यों कर रहे हैं। इससे होगा यह।

1- जीवन को दिशा मिलेगी

जब आप बार-बार खुद यह दो सवाल पूछते हैं, तो आपके दिमाग में चीजें साफ होने लगतीं हैं, इस तरह से आपको अपने जीवन का उदयेश्य मिलता है या दिशा मिलती है, जब तक जीवन में लक्ष्य ना हो आपका कुछ भी करना पानी में रेत डालने की तरह है, जब उदयेश्य सामने होगा तो आपको पता होगा कि आप क्या कर रहे हैं, और क्यों कर रहे हैं।

2- हार से जल्दी उबरेंगे

 शोध कहते हैं, कि  जिन लोगों की जिंदगी का लक्ष्य साफ है, उन्हें हार से उबरने में ज्यादा देर नहीं लगती, वे असफलता को भी सफलता की सीढी के तौर पर देखते हैं, लेकिन जिनका लक्ष्य जीवन में साफ नहीं होता वे हार या असफलता से निराश और हताश हो जाते हैं, कमबैक भी जल्दी नहीं कर पाते।

3- बढ़ेगा आत्मविश्वास

जब खुद से बार-बार यह पूछेंगे कि आपको जिंदगी में क्या करना है, तो धीरे-धीरे आपके अंदर से सही जबाब आने लगेगा, जब आपको यह पता चल गया कि क्या करना है, तो कैसे करना है का उत्तर ढूंढने में आसानी हो जाएगी। चीजें उसी हिसाब से करने लगेंगे, जिससे आपका आत्मविश्वास दूसरे लोगों के मुकाबले अपनेआप ज्यादा हो जाएगा।

4- मिलेगा स्पष्ट नजरिया

यह बात सच है, कि जीवन में हर चीज के लिए स्पष्ट नजरिया रखना आसान नहीं है, लेकिन अगर आप दुनियाभर के सफल लोगों को देखेंगे तो आप पाएंगे कि किसी भी मामले में उनका नजरिया कितना स्पष्ट होता है। क्योंकि उन्हें पता होता है, कि उन्हें जिंदगी से क्या चाहिये। एक बार आपको साफ हो जाए कि आप जिंदगी से क्या चाहते हैं, तो जीवन की बहुत सी बातों को लेकर आपका नजरिया भी स्पष्ट हो जाएगा, जो जीवन में आगे बढऩे के लिए बहुत जरूरी है। - लेखक मोटीवेशनल एंव लाइफ मैनेजमेंट स्पीकर हैं।


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here