DAVV News- कर्मचारियों की हड़ताल, दरवाजे पर स्टूडेंट्स रोते रहे, किसी ने मदद नहीं की

इंदौर।
देवी अहिल्या विश्वविद्यालय के कर्मचारियों ने सोमवार से हड़ताल शुरू कर दी है। यह हड़ताल मंगलवार को भी जारी रहेगी। यूनिवर्सिटी मैनेजमेंट कर्मचारियों को काम पर वापस लौटने के लिए मनाने में नाकामयाब रहा। हड़ताल के कारण यूनिवर्सिटी के सभी काम बंद रहे। यूनिवर्सिटी के दरवाजे पर कई स्टूडेंट्स सुबह से शाम तक खड़े रहे। कुछ स्टूडेंट शाम को रोने लगे क्योंकि उनका साल खराब हो सकता है लेकिन किसी ने मदद नहीं की।

डिप्टी रजिस्ट्रार रचना ठाकुर के विरोध से शुरू हुई हड़ताल

सेवानिवृत्त कर्मचारियों और अनुकंपा नियुक्ति की फाइल में कमियां बताकर लौटने को लेकर कर्मचारी डिप्टी रजिस्ट्रार (स्थापना) रचना ठाकुर के विरोध में उतर आए हैं। शनिवार को अधिकारी पर कार्रवाई के लिए कुलपति डा. रेणु जैन से देवी अहिल्या गैर शिक्षक संघ के पदाधिकारी मिले। मगर कुलपति ने सीधे कार्रवाई से मना कर दिया। इसे गुस्साए कर्मचारियों ने सोमवार सुबह 11 बजे तक काम बंद कर दिया।

दरवाजे पर स्टूडेंट रोने लगे, गिड़गिड़ाते रहे, हड़ताली कर्मचारी नहीं पिघले

आरएनटी मार्ग स्थित नालंदा परिसर में पदाधिकारी नारेबाजी करते रहे। इस बीच विद्यार्थी परिसर में इकट्ठा होने लगे। मगर इन्हें अंदर प्रवेश नहीं दिया। प्रवेश के लिए मार्कशीट लेने आए विद्यार्थियों ने कर्मचारियों से सहयोग मांगा। जवाब में कर्मचारी बोले कि अधिकारियों की जिद की वजह से हड़ताल हुई है। यहां तक अधिकारियों से भी मार्कशीट को लेकर मिन्नतें की। घंटों तक हड़ताल खत्म होने के छात्र-छात्राएं इंतजार करते रहे। इस बीच साल बिगड़ता देख कुछ छात्राएं रोने लगी। मगर उनकी समस्या सुनने वाला कोई अधिकारी नहीं था।

एडमिशन के समय में हड़ताल, विद्यार्थियों को परेशान कर रही है

कर्मचारियों की हड़ताल की वजह से पूछताछ केंद्र बंद था। इसके चलते डिग्री-मार्कशीट, माइग्रेशन और ट्रांसक्रिप्ट से जुड़े आवेदन जमा नहीं हुए है। घंटों तक विद्यार्थी फॉर्म देने के लिए विश्वविद्यालय में खड़े रहे। वहीं कैश काउंटर पर भी ताला लगा था। विद्यार्थियों का कहना है कि इन दिनों प्रवेश प्रक्रिया चल रही है। दस्तावेज नहीं बनने से दाखिले को लेकर दिक्कतें आ रही है।

ना अधिकारी झुके, न कर्मचारी माने, हड़ताल जारी रहेगी

नाराज कर्मचारियों को मानने को लेकर अधिकारियों ने संगठन के पदाधिकारियों को बुलाया। जहां उन्होंने 15 दिनों में स्थापना विभाग की व्यवस्था बदलने का आश्वासन दिया। मगर पदाधिकारी सिर्फ अधिकारी को हटाने की मांग करते रहे। रेक्टर अशोक शर्मा और प्रभारी रजिस्ट्रार अनिल शर्मा ने पंद्रह दिन में व्यवस्था बदलने पर जोर दिया। संगठन के पदाधिकारी अनिल यादव, चैनसिंह यादव व राकेश सिलावट का कहना है कि जब तक डीएवीवी निर्णय नहीं लेगा तब तक कर्मचारी हड़ताल पर रहेंगे।

रेक्टर डा. शर्मा का कहना है कि कर्मचारियों को समझाने की कोशिश की है। इन दिनों प्रवेश की प्रक्रिया चल रही है। कई कार्यों को लेकर विद्यार्थी विवि पहुंच रहे है। उन्हें दिक्कतें न आए इसके लिए कर्मचारियों को हड़ताल नहीं करने का बोला है। 

02 अगस्त को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

मध्य प्रदेश मानसून- विदिशा में रेड अलर्ट, 16 जिलों में मूसलाधार बारिश की चेतावनी
BHOPAL MONSOON- मेहमानों को 1 सप्ताह से ज्यादा हो गया, मेहरबानी अब परेशानी बनने लगी
BREAKING NEWS- शिवपुरी में तालाब का पानी बादल पी गए, बवंडर उठा और तालाब खाली
EMPLOYEE NEWS- वित्त मंत्रालय ने बेसिक सैलरी बढ़ाने से साफ इनकार किया
MP NEWS- CM शिवराज सिंह को फिर दिल्ली बुलाया, कोलार रेस्ट हाउस में 10 घंटे तक रहे
MP NEWS- कलम चलाने के लिए रिश्वत मांगने वाला पटवारी सस्पेंड
MP NEWS- वित्त मंत्री के बेडरूम और घर की सजावट पर जनता के ₹35 लाख खर्च
GWALIOR NEWS- नियम बता रहे युवक को 2 पुलिस वालों ने गोली मारी
MP NEWS- मेरे नाम के आगे यादव लिखा जाता है सिंधिया नहीं: अरुण यादव
MP CORONA NEWS- सागर, दमोह और टीकमगढ़ में संक्रमण का खतरा
GWALIOR NEWS- दिग्विजय सिंह के मिर्ची बाबा पर हमला, कमलनाथ नाराज

महत्वपूर्ण, मददगार एवं मजेदार जानकारियां

GK in Hindiसाबुन, शैंपू या टूथपेस्ट सबके झाग सफेद क्यों होते हैं, जबकि कलर अलग-अलग होते हैं
JYOTISH RASHIFAL- अगस्त से दिसंबर तक मिट्टी को सोना बना देंगे यह पांच राशि के लोग
GK in Hindiठंड और डर दोनों के कारण रोंगटे खड़े हो जाते हैं, ऐसा क्यों
GK in Hindi- वह कौन सी संख्या है जिसे रोमन में नहीं लिखा जा सकता
GK in Hindiरानियों के रेशमी वस्त्र किससे धुलते थे, वाशिंग पाउडर तो था नहीं
:- यदि आपके पास भी हैं ऐसे ही मजेदार एवं आमजनों के लिए उपयोगी जानकारी तो कृपया हमें ईमेल करें। editorbhopalsamachar@gmail.com