BHOPAL NEWS- बेरोजगार इंजीनियर का परिवार, आत्महत्या की कोशिश, पिता और बेटी की मौत

भोपाल
। कर्ज के कारण किसानों के बाद बेरोजगारी के कारण आम नागरिकों की आत्महत्या के मामले मध्य प्रदेश में बढ़ते जा रहे हैं। राजधानी भोपाल में एक व्यक्ति ने पूरे परिवार सहित जहर खा लिया राजधानी भोपाल में एक इंजीनियर ने पूरे परिवार सहित आत्महत्या की कोशिश की। क्योंकि लॉकडाउन के बाद से वह लगातार बेरोजगार चल रहा था। पति-पत्नी ने जहर खाया जबकि 16 वर्षीय बेटे और 14 वर्षीय बेटी कागला ब्लेड से कटा हुआ है।

सहारा एस्टेट में रहता था परिवार

मामला भोपाल के मिसरोद थाना क्षेत्र में आने वाले सहारा स्टेट का है। परिवार में कुल 4 सदस्य थे। सभी ने एक साथ आत्महत्या की कोशिश की। मिसरोद पुलिस के मुताबिक, यहां 102 मल्टी सहारा एस्टेट में रवि ठाकरे (55 साल) अपनी पत्नी रंजना ठाकरे (50 साल), बेटा चिराग ठाकरे (16 साल) और बेटी गुंजन ठाकरे (14 साल) के साथ रहते थे। रवि गोविंदापुरा की एक कंपनी में सिविल इंजीनियर थे। लॉकडाउन की वजह से नौकरी छूट गई थी। पत्नी रंजना ब्यूटी पार्लर चलाती थीं। उनका भी काम बंद हो गया। दोनों की बेरोजगारी से घर चलाना मुश्किल हो गया था। बेटा और बेटी की पढ़ाई चल रही थी। घर के खर्चे के लिए भी उधारी लेनी पड़ रही थी। मिसरोद के थाना प्रभारी ने बताया, “पति-पत्नी ने ज़हर पिया उसके बाद अपने बेटे का गला पत्थर काटने वाली मशीन से काटा जिससे उसकी मौके पर मौत हो गई। मशीन ख़राब हो जाने से बच्ची बच गई।

लेकिन अच्छे नंबर से पेट नहीं भरता

रवि ने सुसाइड नोट में लिखा कि वह 2 साल से बच्चों की फीस नहीं भर पा रहा था। दोनों बच्चे पढ़ने में होशियार हैं। बच्चे अच्छे नंबर लाते थे, लेकिन अच्छे नंबर से पेट नहीं भरता है। वह किराए के घर में रहता है। खुद का घर है लेकिन उस पर बैंक लोन है। जिसे वह चुका नहीं पा रहा है। यह भी बताया कि वह 20 साल से सिविल इंजीनियरिंग की लाइन में काम कर रहा था।

सरकार ने सबके लिए किया, बस मिडिल क्लास को छोड़ दिया 

लॉकडाउन ने सब की कमर तोड़ कर रख दी थी। बड़े-बड़े कारोबारी सरकार से मदद मांगने के लिए आए। सरकार ने उनके लिए काफी कुछ किया। गरीबों को निशुल्क भोजन एवं राशन दिया परंतु मिडिल क्लास को छोड़ दिया। एक ऐसा व्यक्ति जो लॉकडाउन से पहले तक सरकार को इनकम टैक्स दिया करता था, लॉकडाउन के बाद बेरोजगार हो गया। ऐसे व्यक्तियों के लिए सरकार के पास कोई इच्छाशक्ति और योजना नहीं थी।

28 अगस्त को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

हलषष्ठी व्रत की तारीख, मुहूर्त समय एवं कथा, माताएं संतान की रक्षा के लिए करतीं हैं
MPPEB BREAKING NEWS- तीन परीक्षाएं रद्द, पेपर लीक हुए थे
MP SCHOOL OPEN- मुख्यमंत्री ने आधिकारिक घोषणा कर दी
IAS लोकेश जांगिड़- शराब भी नहीं मिली, चूना भी लग गया, 33 मिनट में 34,000 की ठगी
MP EMPLOYEE NEWS- हाईकोर्ट ने पटवारियों की हड़ताल अवैध घोषित की
GWALIOR NEWS- रेल सुविधाओं के 9 बिंदुओं पर निर्देश जारी, ज्योतिरादित्य सिंधिया रेल मंत्री से मिले
EMPLOYEE NEWSहाईकोर्ट ने कहा: सहायक प्राध्यापक के ट्रांसफर केस का निराकरण प्रमुख सचिव करें, तब तक कोई कार्रवाई ना हो,
MP OBC आरक्षण- 6 विभागों को छोड़ सबमें 27% लागू कर सकते हैं
MP NEWS- मध्यप्रदेश में कब तक 100% वैक्सीनेशन हो जाएगा, मुख्यमंत्री ने फाइनल डेट बताई

महत्वपूर्ण, मददगार एवं मजेदार जानकारियां

GK in Hindiएक गांव जहां कोबरा सांप और इंसान साथ-साथ रहते हैं, अच्छे पडोसियों की तरह
GK in Hindi- दवाई वाली गोली- गोल क्यों होती है, मेडिसिन टेबलेट का आकार चौकोर क्यों नहीं होता
GK in Hindiक्या भगवान को प्रसाद में चॉकलेट चढ़ा सकते हैं, पहली चॉकलेट कहां बनी थी
GK in Hindiबिस्किट्स में छोटे-छोटे छेद क्यों होते हैं, सिर्फ डिजाइन है या कोई टेक्नोलॉजी
GK in Hindi- ताश की गड्डी का चौथा राजा सुसाइड क्यों कर रहा है
GK in Hindiएक पौधा जिसे खाने से महीने भर भूख-प्यास नहीं लगती
:- यदि आपके पास भी हैं ऐसे ही मजेदार एवं आमजनों के लिए उपयोगी जानकारी तो कृपया हमें ईमेल करें। editorbhopalsamachar@gmail.com
:- यदि आपके पास भी हैं ऐसे ही मजेदार एवं आमजनों के लिए उपयोगी जानकारी तो कृपया हमें ईमेल करें। editorbhopalsamachar@gmail.com


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here