मिस्टेक मैनेजमेंट- 3 गलतियां जिनसे इतिहास बदल गया- MOTIVATIONAL ARTICLE IN HINDI

शक्ति रावत।
किसी ने क्या खूब कहा है कि अगर आप गलती नहीं कर रहे हैं, इसका मतलब आप जिंदगी में आगे नहीं बढ़ रहे हैं। क्या सचमुच गलतियां इतनी बुरी हैं, जो हम इनसे इतना डरते हैं, लेकिन सवाल यह है अगर गलती नहीं होगी तो सीखेंगे कैसे? शायद आपको यकीन ना हो लेकिन भरोसा कीजिये। कई बार गलतियां अच्छी भी होतीं हैं क्योंकि ये जीवन में नये रास्ते खोल देतीं हैं और कुछ गलतियां ऐसी होती हैं, जिनसे इतिहास बदल जाता है। ऐसी ही विश्व प्रसिद्व गलतियों की तीन चुनिंदा कहानियां आज।

1-जब कोलंबस एशिया की जगह अमेरिका पहुंचे

कहा जाता है कि यूरोप से पश्चिम की ओर जाकर कोलंबस एशिया की खोज करना चाहते थे। हालांकि उनके सफर पर तब भी कई सवाल उठे थे, फिर भी कोलंबस एशिया खोजने निकले और जा पहुंचे हैती और हिस्पोनोलिया यानि सेंट्रल और साउथ अमेरिका। कोलंबस एशिया का रास्ता तो कभी नहीं खोज पाए। लेकिन उनके अमेरिका की खोज कर लेने से यूरोपीय खोजों का नया रस्ता जरूर खुल गया। जिसके बाद अमेरिका और यूरोप के बीच सपंर्क बना और दुनिया का इतिहास बदलना शुरू हुआ।

2- जब एलेक्जेंडर लैब साफ करना भूले

एलेक्जेंडर फ्लेमिंग साल 1928 में पेनिसिलिन की खोज के लिए जाने जाते हैं। पर कम लोग जानते हैं, कि इसकी खोज हुई कैसे। दरअसल एलेक्जेंडर को परिवार के साथ छुट्टीयों पर जाना था। वो अगस्त का महीना था। जब पूरे एक महीने की छुट्टी के बाद एलेक्जेंडर वापस अपनी लैब लौटे तो देखा कि लैब में रखी एक गंदी प्लेट के चारों ओर एक बैक्टीरिया  रिंग बन गई है। लेकिन जांच की तो पाया कि इन रिंग्स के आसपास का पूरा एरिया बैक्टीरिया फ्री हो गया है। इसी गलती से पेनिसिलिन बनी जिसने द्वितीय विश्व युद्व में हजारों लोगों की जान बचाई।

3- कैबिन की चाबियां नहीं थी, डूब गया टाइटैनिक

टाइटैनिक जब अपनी महान यात्रा पर निकला तब उस पर सवार फ्रीड फ्लीट नाम के कर्मचारी पर आइसवर्ग की निगरानी की जिम्मेदारी थी, लेकिन उसके पास दूरबीन नहीं थी। ऐसा नहीं कि जहाज पर दूरबीन नहीं थीं, लेकिन वे जिस कमरे में रखीं थीं, उसकी चाबी जहाज पर नहीं थीं। जहाज रवाना होने से ऐन पहले शिप के सेंकेंड कमांड ऑफीसर को बदल दिया गया, और उसी की जेब में चाबियां भी चलीं गईं। नतीजा आइसवर्ग से टकराकर उस समय का सबसे कीमती जहाज समुद्र में समा गया। -लेखक मोटीवेशनल एंव लाइफ मैनेजमेंट स्पीकर हैं। 

महत्वपूर्ण, मददगार एवं मजेदार जानकारियां

GK in Hindi- दवाई वाली गोली- गोल क्यों होती है, मेडिसिन टेबलेट का आकार चौकोर क्यों नहीं होता
GK in Hindiक्या भगवान को प्रसाद में चॉकलेट चढ़ा सकते हैं, पहली चॉकलेट कहां बनी थी
GK in Hindiबिस्किट्स में छोटे-छोटे छेद क्यों होते हैं, सिर्फ डिजाइन है या कोई टेक्नोलॉजी
GK in Hindi- ताश की गड्डी का चौथा राजा सुसाइड क्यों कर रहा है
GK in Hindiएक पौधा जिसे खाने से महीने भर भूख-प्यास नहीं लगती
GK in Hindiभारत का सबसे पहला गांव कौन सा है, जहां मनुष्य, बंदर से इंसान बना
:- यदि आपके पास भी हैं ऐसे ही मजेदार एवं आमजनों के लिए उपयोगी जानकारी तो कृपया हमें ईमेल करें। editorbhopalsamachar@gmail.com
:- यदि आपके पास भी हैं ऐसे ही मजेदार एवं आमजनों के लिए उपयोगी जानकारी तो कृपया हमें ईमेल करें। editorbhopalsamachar@gmail.com