Loading...    
   


BHOPAL NEWS- डॉक्टर भूरिया की मौत मामले में कोई क्लू नहीं मिला, हर एंगल क्लीन मिल रहा है

भोपाल
। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल के सरकारी जय प्रकाश चिकित्सालय में ब्लड बैंक का अधिकारी डॉक्टर एचएल भूरिया की मौत का रहस्य अभी बरकरार है। ना तो उनके परिजनों ने कोई खास जानकारी दी है ना ही उनके साथ काम करने वाले कर्मचारियों ने। यहां तक कि उनके सोशल मीडिया अकाउंट से भी पुलिस को कुछ काम की बात हाथ नहीं लगी। पुलिस को अब केवल उनकी कॉल डिटेल का सहारा है। डॉ एचएल भूरिया ने शनिवार 03 जुलाई 2021 को जेपी हॉस्पिटल कैंपस में खुदकुशी की थी।

अब उनकी सुसाइड की पहेली को सुलझाने के लिए पुलिस ने उनके मोबाइल की कॉल डिटेल्‍स मंगवा रही है। पुलिस इस जानकारी के मिलने के बाद यह पता करेगी कि घटना के पांच दिन पहले उनकी किस-किस से बात हुई। उनके ई-मेल व इंटरनेट मीडिया अकाउंट को पुलिस अच्छी तरह से खंगाल चुकी है, लेकिन उससे पुलिस को कुछ नहीं मिला है।

डा एचएल भूरिया अपने आवास में अकेले रहते थे। उनकी पत्नी सागर जिला अस्पताल में डाक्टर है। पुलिस मानकर चल रही है कि उन्होंने फांसी लगाकर आत्महत्या की है लेकिन आत्महत्या के कारणों का पता नहीं लगा पा रही है। अस्पताल में उनके साथ काम करने वाले डाक्टरों का कहना है कि वह सहृदयी व्यक्ति थे। उनसे कोई विवाद नहीं था। घटना के एक दिन पहले भी उन्होंने अस्पताल में काम किया था।

डॉक्टर भूरिया के घर में ना तो सुसाइड नोट मिला ना ही कुछ और सस्पेक्टेड

हबीबगंज पुलिस के दो-सब इंस्पेक्टर इस सुसाइड मामले की जांच कर रहे हैं। डीआइजी समेत आला अधिकारी पूरे मामले में निगरानी कर रहे हैं। डॉक्‍टर के घर से मिली हर चीज की बारीकी से जांच की जा रही है। पुलिस उनके मोबाइल कॉल डिटेल्‍स की जानकारी जुटाते हुए यह पता लगाने की कोशिश कर रही है कि आखिरी समय वह किस-किस के संपर्क में थे। उनकी किस-किस से बात होती थी। उनके जान देने के पांच दिन पहले का रिकार्ड भी खंगाला जा रहा है। (संबंधित समाचार:  डॉक्टर भूरिया की मौत पर बैचमेट डॉक्टर भी हैरान)

06 जुलाई को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

EMPLOYEE NEWS- DA-DR पेमेंट की तारीख तय, बकाया किस्त भी मिलेगी
MP BOARD- 12वीं के रिजल्ट का फार्मूला फेल, हजारों छात्रों का परीक्षा परिणाम अटका
MP NEWS- स्कूल नहीं खुलेंगे, फीस नहीं बढ़ेगी: सीएम शिवराज सिंह चौहान
DAVV ADMISSION- डिप्लोमा और सर्टिफिकेट सहित UG-PG के 72 से ज्यादा कोर्स में रजिस्ट्रेशन शुरू
MP NEWS- मध्यप्रदेश में अब शिक्षिका और प्राचार्या जैसे पद नहीं रहेंगे
MP NEWS- वैक्सीनेशन के 1 घंटे के अंदर महिला की मौत
MP NEWS- 150 यूनिट तक बिजली खपत वालों को ₹1 प्रति यूनिट का लाभ
MPMSU NEWS- भोपाल वाली मैडम बचा नहीं पाईं, वृंदा और तृप्ति की प्रतिनियुक्ति खत्म, क्लर्क सस्पेंड, कंपनी टर्मिनेट
OPS- शिक्षाकर्मियों के प्रकरण हाईकोर्ट की डबल बैंच में क्यों प्रस्तुत किए गए, जानिए
मध्य प्रदेश मानसून- बंगाल के बादल उठने लगे हैं, ब्रेक के बाद मूसलाधार बारिश होगी
MP NEWS- शिवराज सरकार का मंत्रिमंडल विस्तार, रिक्त पद चार, दावेदार बेशुमार

महत्वपूर्ण, मददगार एवं मजेदार जानकारियां

GK in Hindiसौर मंडल के 7 ग्रहों का फायदा ही क्या जब इन पर कोई रह नहीं सकता
free ayurvedic consultation मप्र आयुष विभाग का मोबाइल एप Download करें
GK in Hindi मोर अपना घोंसला कहां बनाता है, पेड़ के ऊपर या किसी गुफा में 
GK in Hindiसड़क किनारे वृक्षों पर सफेद पेंट क्यों किया जाता है, वैज्ञानिक कारण 
GK in Hindiबर्फ का टुकड़ा पानी में तैरता है तो फिर शराब में क्यों डूब जाता है 
GK in Hindiबारिश की बूंदे गोल क्यों होती है, लंबी क्यों नहीं होती 
GK in Hindiमुर्गा सूर्योदय से पहले बांग क्यों देता है, कभी लेट क्यों नहीं होता
GK in Hindiमनुष्य की दो आंखें क्यों होती है जबकि एक आंख से भी पूरा दिखाई देता है
GK IN HINDI- BIKE का इंजन CC में क्यों होता है, हॉर्स पावर में क्यों नहीं होता
:- यदि आपके पास भी हैं ऐसे ही मजेदार एवं आमजनों के लिए उपयोगी जानकारी तो कृपया हमें ईमेल करें। editorbhopalsamachar@gmail.com


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here