Loading...    
   


मध्य प्रदेश के 2300 सरकारी स्कूल प्रभारी प्राचार्य के भरोसे, व्याख्याता की नियुक्ति करें: कर्मचारी संघ

जबलपुर
। मध्यप्रदेश तृतीय वर्ग शासकीय कर्मचारी संघ द्वारा जारी विज्ञप्ति में बताया कि स्कूल शिक्षा विभागान्तर्गत लगभग 750 हायर सेकेण्डरी एवं 1600 हाई शासकीय हाई में नियमित प्राचार्य की पदस्थापना न होने से वे प्रभारी प्राचार्य के भरोसे चल रहे हैं। 

शिक्षा विभाग में व्याख्याता से हाई स्कूल प्राचार्य एवं हाई स्कूल प्राचार्य से हायर सेकेण्डरी प्राचार्य के पद पर पदोन्नति का प्रावधान है वर्तमान में पदोन्नति पर रोक होने के फलस्वरूप सरकारी स्कूल को नियमित प्राचार्य नसीब नही हो रहे हैं जिसके कारण स्कूल के प्रशासनिक एवं आर्थिक कार्य सजगता से निपटने में कठनाईया आ रही है । नियमित प्राचार्य की पदस्थापना न होने से स्कूलों का शैक्षणिक स्तर में भी गिरावट आ रही है। 

प्रदेश सरकार स्कूलों की स्थिति में सुधार लाने हेतु करोड़ों रूपये प्रतिवर्ष खर्च कर रही है । यदि स्कूल शिक्षा विभाग ऐसे व्याख्याता एवं प्राचार्य हाई स्कूल जो कि वरिष्ठ हैं और उन्हें वरिष्ठ वेतनमान के फलस्वरूप प्राचार्य हाई स्कूल/हायर सेकेण्डरी का वेतनमान प्राप्त हो रहा है उन्हें प्राचार्य हाई स्कूल एवं हायर सेकेण्डरी में पदस्थापना की जाती है तो स्कूलों में प्रशासनिक एवं आर्थिक कसावट आने के साथ-साथ शैक्षणिक स्तर में भी अत्याधिक सुधार संभव हो पायेगा।

संघ के योगेन्द्र दुबे, अरवेन्द्र राजपूत, अवधेश तिवारी, नरेन्द्र दुबे, अटल उपाध्याय, जवाहार केवट, पहलाद उपाध्याय, मुन्ना लाल पटेल, नरेन्द्र सेन, मनोज राय द्व, शहजाद सिंह द्विवेदी, आलोक अग्निहोत्री, मुकेश सिंह, दुर्गेश पाण्डेय, रजनीश पाण्डेय, अजय दुबे, अरूण दुबे, विनोद साहू, बलराम नामदेव, अजय राजपूत, गोपाल पाठक, हरीशंकर गौतम, गणेश चतुर्वेदी, के.के.तिवारी, कैलाश शर्मा, लक्ष्मरण परिहार, हर्ष मनोज दुबे, राजेश चतुर्वेदी आदि ने माननीय मुख्यमंत्री जी एवं प्रमुख सचिव, स्कूल शिक्षा विभाग को ई मेल भेजकर मांग की है कि शासकीय हाई स्कूल/हायर सेकेण्डरी स्कूलों में रिक्त प्राचार्य के पदों पर वरिष्ठ व्याख्याता एवं प्राचार्य हाई स्कूल जिन्हें वरिष्ठ वेतनमान के फलस्वरूप प्राचार्य हाई स्कूल/हायर सेकेण्डरी का वेतनमान प्राप्त हो रहा है उनकी पदस्थापना की जाये।

04 जुलाई को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

EMPLOYEE NEWS- कर्मचारी के ट्रांसफर को कब अवैध माना जाता है, पढ़िए
MP CORONA NEWS- संक्रमण फिर बढ़ने लगा, मुख्यमंत्री चिंतित
मध्य प्रदेश मानसून- 11 जिलों में बारिश होगी, 17 जिलों में बूंदाबांदी
MP NEWS- अतिथि शिक्षकों की भर्ती के आदेश जारी
IFMIS TRANFER कर्मचारी ऑनलाइन आवेदन करें
CRIME STORY- राखी भोपाल छोड़ने तैयार नहीं थी, इसलिए मार डाला: प्रशांत ने पुलिस को बताया
INDORE NEWS- मंत्री उषा ठाकुर से पंगा महंगा पड़ा, डिप्टी रेंजर सस्पेंड
JABALPUR NEWS- मुख्यमंत्री ने जो घाव दिए हैं, वह हरे हैं, भरे नहीं हैं: अजय विश्नोई
KHANDWA ELECTION NEWS- कैलाश विजयवर्गीय को खंडवा लोकसभा से उप चुनाव लड़ाने की तैयारी
INDORE NEWS- में रेत के नीचे दबकर कॉन्ट्रेक्टर और उसके बेटे की मौत
ट्रांसफर में टंटे मत करना: सीएम ने डिनर टेबल पर मंत्रियों को समझाया

महत्वपूर्ण, मददगार एवं मजेदार जानकारियां

GK in Hindiबारिश की बूंदे गोल क्यों होती है, लंबी क्यों नहीं होती 
Tech Tips Step by Stepघर की अर्थिंग कैसे चेक करें, बिना इलेक्ट्रीशियन को बुलाएं
GK in Hindiमुर्गा सूर्योदय से पहले बांग क्यों देता है, कभी लेट क्यों नहीं होता
GK in Hindi- COCA COLA सिरदर्द के लिए बना रहे थे, गलती से कोल्ड ड्रिंक बन गया
GK in Hindiमनुष्य की दो आंखें क्यों होती है जबकि एक आंख से भी पूरा दिखाई देता है
GK IN HINDI- इंटरनेट डाटा का उत्पादन कहां और कैसे होता है 
GK IN HINDI- BIKE का इंजन CC में क्यों होता है, हॉर्स पावर में क्यों नहीं होता
:- यदि आपके पास भी हैं ऐसे ही मजेदार एवं आमजनों के लिए उपयोगी जानकारी तो कृपया हमें ईमेल करें। editorbhopalsamachar@gmail.com


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here