घर की अर्थिंग कैसे चेक करें, बिना इलेक्ट्रीशियन को बुलाएं - Tech Tips Step by Step

हम सभी चाहते हैं कि हमारा घर सुरक्षित हो। इसके लिए दरवाजे पर ताले से लेकर रसोई गैस सिलेंडर की टेस्टिंग तक हम हर चीज का ध्यान रखते हैं। इलेक्ट्रिसिटी सप्लाई में अर्थिंग भी एक ऐसी ही चीज है। इसे भी लगातार चेक करते रहना चाहिए कि अर्थिंग सही काम कर रही है या नहीं। 

घर की इलेक्ट्रिक सप्लाई में अर्थिंग वायर का क्या महत्व है

भारत में बहुत सारे लोग अपने कमरे के इलेक्ट्रिक बोर्ड पर लगे हुए थ्री पिन फीमेल सॉकेट में केवल डबल पिन मेल प्लग का उपयोग करते हैं। ऐसे लोगों का मानना होता है कि जब दो तारों से काम चल रहा है तो तीसरे तार की क्या जरूरत है। वह नहीं जानते कि ऐसा करके वह कम से कम अपने घर की पूरी इलेक्ट्रिक सप्लाई और ज्यादा से ज्यादा अपनी जान को जोखिम में डाल रहे हैं। कुछ लोग थ्री पिन प्लग का उपयोग तो करते हैं परंतु साल में एक बार भी अपने घर की अर्थिंग चेक नहीं करते। निश्चित रूप से ऐसे लोग भी अपनी जान जोखिम में डाल रहे होते हैं। हम आपको बताते हैं कि बिना इलेक्ट्रीशियन को बुलाए आप खुद कैसे चेक कर सकते हैं कि आपके घर की अर्थिंग सही काम कर रही है या नहीं। 

घर की अर्थिंग चेक करने के लिए लैंप टेस्ट विधि 

यह सबसे आसान तरीका है। आपको केवल एक बल्ब की जरूरत है जो होल्डर में फिक्स हो। शुरू करने से पहले चेक कर लें कि होल्डर के वायर कहीं से ब्रेक नहीं हुए हैं। इसके बाद लैंप टेस्ट विधि शुरू करें:- 
घर के किसी भी इलेक्ट्रिक बोर्ड के 3 पिन सॉकेट का चयन करें।
होल्डर के दोनों तारों में से एक वायर फेज में और दूसरा न्यूट्रल में टच करें। 
बल्ब की रोशनी को देखें। इस समय आपका बल्ब अपनी पूरी रोशनी दे रहा होगा।
इलेक्ट्रिक बोर्ड में थ्री पिन सॉकेट की सबसे ऊपर वाली पिन अर्थिंग होती है। राइट एंड साइड वाली छोटी पिन फेस और लेफ्ट साइड वाली छोटी पिन न्यूट्रल या नेगेटिव होती है। 
न्यूट्रल वाली पिन से होल्डर के वायर को निकालकर ऊपर बड़ी वाली अर्थिंग पिन के अंदर टच करें। 
बल्ब की रोशनी को देखें, क्या कोई अंतर आया है। 
यदि कोई अंतर नहीं आया है तो सब कुछ ठीक है। 
यदि बल्ब की रोशनी थोड़ी कम पड़ गई है तो आपकी अर्थिंग कमजोर हो गई है। 
यदि बल्ब बिल्कुल रोशनी नहीं दे रहा है तो आपकी आर्थिक ब्रेक हो गई है।