Loading...    
   


BIKE में से सिर्फ 5 एक्सेसरीज हटा दो, 20% पेट्रोल की बचत होगी

पेट्रोल के दाम निश्चित रूप से चिंता का विषय बन गए हैं। लोगों ने उम्मीद नहीं की थी कि लॉकडाउन के टाइम जबकि पेट्रोल की खपत सबसे कम थी, पेट्रोल के दाम इस कदर बढ़ जाएंगे। पेट्रोल पर जीएसटी लगाने की मांग की जा रही है। सरकार भी पेट्रोल पर टैक्स कम करने पर विचार कर रही है लेकिन इस प्रक्रिया के बीच हम आपको एक ऐसा तरीका बताने जा रहे हैं जिससे आप कम से कम 20% पेट्रोल की बचत कर सकते हैं। 

वाइड टायर निकाल दीजिए 

वाइट टायर्स देखने में तो बहुत अच्छे लगते हैं लेकिन यह टायर आपकी मोटरसाइकिल के माइलेज को कम कर देते हैं। इन टायरों के कारण सड़क पर मजबूत पकड़ के साथ-साथ पेट्रोल का खर्चा बढ़ जाता है। इसके अलावा इंजन पर दबाव भी बढ़ जाता है। इंजीनियर बड़ी रिसर्च के बाद किसी वाहन के लिए उसके टायर सिलेक्ट करते हैं। इसलिए कंपनी फिटेड टायर ही आपकी बाइक के लिए सबसे अच्छा टायर हैं।

साइलेंसर से आवाज और पेट्रोल का खर्चा दोनों बदल जाते हैं 

अपनी बाइक की आवाज को बदलने के लिए कई छोरे बाइक के साइलेंसर को चेंज करवा लेते हैं। मार्केट में ऐसे बहुत सारे साइलेंसर मौजूद हैं जो आपकी बाइक में से मनचाही आवाज निकाल सकते हैं लेकिन इस तरह के साइलेंसर लगवाने से बाइक की आवाज के साथ साथ पेट्रोल का खर्चा भी बदल जाता है। कुछ लड़कों को विश्वास करने में देर लगेगी लेकिन साइलेंसर के कारण माइलेज प्रभावित होता है।

मेटल सेफ्टी केज पेट्रोल का खर्चा बढ़ाता है

मोटरसाइकिल में एक्स्ट्रा सेफ्टी के लिए कई राइडर हैवी मेटल का सेफ्टी केज लगवा लेते हैं जो फुट एरिया को सुरक्षित रखता है। ये आपके पैरों को तो बचाता है लेकिन इंजन पर दबाव भी डालता है जिससे माइलेज काफी कम हो जाता है। सुरक्षा जरूरी है परंतु सुरक्षा के बंदोबस्त उतने ही होने चाहिए जितनी जरूरी है। कच्ची छत वाली झोपड़ी में लोहे का दरवाजा ना तो चोरों को रोक सकता है और ना ही हादसों को।

इंजन काउल सिटी बाइक्स के लिए अच्छा नहीं है

इंजन काउल ज्यादातर स्पोर्ट्स बाइक्स में दिया जाता है। इससे इंजन तो सुरक्षित रहता है। कई बार बाइक राइडर्स सिटी बाइक में इंजन काउल लगवा लेते हैं। इसके कारण सिटी बाइक का इंजन गर्म होने लगता है और फ्यूल का खर्चा बढ़ जाता है। सरल शब्दों में बात सिर्फ इतनी सी है कि आपकी बाइक के लिए कंपनी की तरफ से जो भी recommended है, केवल उसी का उपयोग करें। 


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here