Loading...    
   


BHOPAL NEWS- यात्री की जान बचाने ट्रेन वापस लौटी, अस्पताल में भर्ती करवाया

भोपाल।
इटारसी की तरफ से आकर बीना की तरफ जा रही दक्षिण एक्सप्रेस (02721) चेन पुलिंग के कारण रुक गई। ड्राइवर और गार्ड ने तत्काल फैसला लिया और ट्रेन उसी ट्रैक पर उल्टा चलने लगी। करीब 1 किलोमीटर चलने के बाद पता चला कि ट्रैक पर एक यात्री घायल पड़ा हुआ है। उसे रेस्क्यू किया गया। भोपाल के जेपी हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया। युवक मध्य प्रदेश के गुना जिले का रहने वाला था।

गुना के युवक गनपत की ट्रेन से गिरने के कारण मौत

घटना औबेदुल्लागंज के नजदीक ईटाया कलां के पास दोपहर 3.35 बजे हुई। मृतक का नाम गनपत है। वह नांदेड़ से गुना जा रहा था। प्रत्यक्षदर्शी यात्रियों ने बताया कि युवक गनपत ट्रेन के ए-1 एसी कोच में था। वह काफी देर से गेट के आसपास घूम रहा था। उसके साथियों ने उसे समझाया था कि गेट के पास खड़े मत रहो। वह दो बार गेट से हट भी गया था। तीसरी बार फिर गेट पर जाकर खड़ा हो गया। तब ट्रेन करीब 50 किमी प्रतिघंटा की गति से दौड़ रही थी। तभी वह गिर गया।

लोको पायलट और गार्ड ने यात्री को बचाने का फैसला किया

युवक के साथ उसके रिश्तेदार व परिचित भी सफर कर रहे थे, जिन्होंने उसे ट्रेन से गिरते हुए देखा तो घबरा गए। कुछ समय बचाओ-बचाओ की आवाज करते रहे, फिर जंजीर खींच दी। तब तक ट्रेन एक किमी आगे निकल चुकी थी। हादसे के तत्काल बाद ट्रेक के किनारे तड़प रहे युवक को गार्ड ने देख लिया था। तब तक ट्रेन की जंजीर भी खींच दी गई थी। यह संदेश गार्ड ने तुरंत लोको पायलट को दिया। दोनों ने तुरंत निर्णय लेते हुए ट्रेन को वापस चलाने का निर्णय लिया।

लोको पायलट, गार्ड व अन्य ने युवक को बचाने की पूरी कोशिश की, लेकिन वह बुरी तरह जख्‍मी था। इलाज के दौरान मौत हो गई। मृतक गेट के पास क्यों खड़ा था, इसकी जांच करेंगे।
- एसएस शुक्ला, थाना प्रभारी जीआरपी, हबीबगंज 

20 जून को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार


महत्वपूर्ण, मददगार एवं मजेदार जानकारियां

:- यदि आपके पास भी हैं ऐसे ही मजेदार एवं आमजनों के लिए उपयोगी जानकारी तो कृपया हमें ईमेल करें। editorbhopalsamachar@gmail.com


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here