Loading...    
   


GK पढ़िए, समोसे की शुरुआत कहां से हुई, आलू की जगह क्या भरा होता था, दुनिया के कितने देशों में फेमस है

समोसा, किसी पहचान का मोहताज नहीं है। मसालेदार आलू वाला समोसा पूरी दुनिया में चटनी के साथ चाट चाट कर खाया जाता है। मजेदार बात यह है कि समोसे को खाने का तरीका देश या सामाजिक सभ्यताओं के कारण बदलता नहीं है। आज अपन पता लगाएंगे कि समोसे की शुरुआत कहां से हुई थी और क्या हमेशा से समोसे के अंदर मसालेदार आलू भरा हुआ होता था।

दुनिया का पहला समोसा कहां बनाया गया

इतिहास की किताबें बताती है कि समोसा शब्द की व्युत्पत्ति फ़ारसी के शब्द سنبوساگ‎ (संबूसाग) से हुई है। यह फ़ारसी भाषा में ही سمبوسه (सम्बूसह्) अथवा سنبوسه (संबूसह्) के रूप में परिवर्तित हो गया है। यानी समोसा जो है वह फारसी साम्राज्य में पैदा हुआ और फिर पूरी दुनिया में फेमस हो गया। भारत के उत्तर प्रदेश एवं मध्य प्रदेश सहित कई राज्यों में मसालेदार आलू का समोसा ना केवल सुबह का नाश्ता है बल्कि कई लोगों के लिए दोपहर का भोजन भी है।

क्या समोसे में हमेशा मसालेदार आलू भरे होते थे 

आज तक अपन सोचते थे कि समोसा का इन्वेंशन अपने बिहार में हुआ है लेकिन समोसा तो फारसी निकला। मध्य एशिया के देशों में समोसा काफी पसंद किया जाता है। पाकिस्तान की गलियों से लेकर करोड़पति लोगों के आलीशान गलियारों तक समोसा सबकी पसंद है। समोसा मैदा अथवा आटा से बनाया जाता है। तुर्की हो या बिहार, समोसा तिकोना ही होता है लेकिन फारसी साम्राज्य में इसके अंदर मसालेदार मांस का कीमा भरा जाता था। बाद में इसके अंदर मसालेदार सब्जियां भरकर तला जाने लगा और आजकल मसाला युक्त आलू भरा जाता है। लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि इसके अंदर और कुछ नहीं होता।

समोसा की शुरुआत कब से हुई थी

फ़ारसी शायर इशाक़ अल-मौसिली की नवीं शताब्दी की समोसे का प्रथम उल्लेख मिलता है। इसी आधार पर माना जाता है कि समोसा की शुरुआत 9वी शताब्दी में फारसी साम्राज्य से हुई थी। समोसा को भारत आते-आते 300 साल लग गए। भारत में इसका प्रथम प्रयोग तेरहवीं शताब्दी में लिखित अमीर ख़ुसरो की रचनाओं में मिलता है, जिसमें उन्होंने माँस, प्याज मसाले से युक्त घी में पकाए हुए समोसे का विवरण किया। इब्न-बतूता ने भी तुगलक काल में सम्बूशाक अथवा सम्बूसाक़ का उल्लेख किया है। आइने-अकबरी में भी इसे संबूसाह् कहा गया है। किन्तु धीरे-धीरे इस शब्द का रूप समोसा हो गया है। 

समोसा को दुनिया में कितने नामों से पुकारा जाता है

अंग्रेजी : samosa (समोसा)
जापानी : サモサ (समोसा)
कोरियाई : 사모사 (समोसा)
मलयालम : സമോസ (समोसा)
मौरिशस तथा फ्रेंच रियुनियन क्रेयोल: samousa (समौसा)
फ्रेंच : samoussa (समौसा)
तमिऴ : சமோசா (चमोचा)
तेलुगु : సమోస (samōsa)
म्यान्मार भाषा : စမူဆာ (समूःसा)
इन्डोनेशियाई भाषा : samosa 

वहीं फ़ारसी से इसका प्रसारण मध्य एशिया, पश्चिमी एशिया तथा अफ्रीका में हुआ है। यथा :

ताजिक : самбӯса (सम्बूसा)
अरबी : سَنْبُوسَة‎ (संबूसह्)
ङाज़िद्या कोमोरियन : samɓusa (सम्बूसा)
सोमाली : sambuus (सम्बूस)
स्वाहिली, मालागासी : sambusa (सम्बूसा)
उयग़ुर : سامسا‎ (समसा)
Notice: this is the copyright protected post. do not try to copy of this article 

सामान्य ज्ञानः कुछ मजेदार जानकारियां

(current affairs in hindi, gk question in hindi, current affairs 2019 in hindi, current affairs 2018 in hindi, today current affairs in hindi, general knowledge in hindi, gk ke question, gktoday in hindi, gk question answer in hindi,)


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here