Loading...    
   


मप्र में कर्मचारियों को भी आयुष्मान योजना का लाभ मिलना चाहिए: कर्मचारी संघ - EMPLOYEE NEWS

जबलपुर
। मध्यप्रदेश तृतीय वर्ग शासकीय कर्मचारी संघ ने जारी विज्ञप्ति में बताया कि  कर्मचारियों/अधिकारियों को बीमार होने पर इलाज करवाने हेतु लाखों रूपयों का नगद भुगतान करना पडता है अन्यथा उन्हें  स्वंय अपनी कमाई से निजि स्वास्थ्य  बीमा योजना का लाभ लेने के लिए किश्तों में भुगतान करना पडता है, जिससे उन्हें आर्थिक परेशानियों का सामना करना पडता है। 

कर्मचारियों को पैसों के अभाव में इलाज न मिल पाने से कई बार उनकी इलाज के दौरान ही मृत्यु तक हो जाती है जिससे उनका पूरा परिवार तहस नहस हो जाता है। कई गंभीर बीमारियों को शासकीय चिकित्सालयों में इलाज नहीं हो पाता है जिसक चलते उन्हें  निजि चिकित्सालयों में  इलाज कराने हेतु भारी आर्थिक व्याय करना पडता है, जिसके कारण बीमार कर्मचारी के परिवार केा अत्यंत परेशानी होती है। आयुष्मान योजना का लाभ कर्मचारियों को न होने से उन्हें साहूकारों से मोटी ब्याज दरों पर रूपये लेने पडते हैं जिससे वह एवं उनका परिवार आजीवन दलालों एवं साहूकारों के जाल में फंस जाते हैं और अपनी जीवन भर की कमाई कर्ज चुकाने में बर्बाद कर देते हैं और उनके परिवारों का सही ढंग से पालन पोषण नहीं हो पाता है। 

संघ के अर्वेन्द्र राजपूत, अवधेश तिवारी, अटल उपाध्याय ,आलोक  अग्निहोत्री, मुकेश सिंह , ब्रजेश मिश्रा , मुन्नालाल पटेल, आशुतोष तिवारी,  दुर्गेश पाण्डेय, सुरेन्द्र  जैन,  मुकेश मिश्रा, शरद मिश्रा, परशुराम तिवारी, राकेश राव, सतेन्द्र  सिंह, मनोज सिंह, , वीरेन्द्र चंदेल, एस पी बाथरे, दिलराज झारिया,  तुषरेन्द्र सिंह सेंगर, नीरज कौरव, जवाहर लोधी, शैलेन्द्र् दुबे, निशांक तिवारी, श्याामनारायण तिवारी,  महेश कोरी, विनय नामदेव, मो.तारिक, धीरेन्द्र  सोनी, प्रियांशु शुक्ला,  संतोष तिवारी  आदि ने माननीय मुख्य मंत्री जी से मांग की है प्रदेश के समस्तव अधिकारियों एवं कर्मचारियों को भी आयुष्मा न योजना का लाभ दिया जाये।



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here