Loading...    
   


CBSE: माइग्रेशन सर्टिफिकेट के नियम बदले

नई दिल्ली।
CBSE - Central Board of Secondary Education ने स्टूडेंट्स के माइग्रेशन सर्टिफिकेट (स्थानांतरण प्रमाण पत्र) के नियम बदल दिए हैं। नए नियमों के अनुसार स्थानांतरण प्रमाण पत्र अब ऑनलाइन दिया जाएगा। जिस स्टूडेंट को हार्ड कॉपी चाहिए उसे एक लंबी प्रक्रिया से गुजरना होगा। 

सीबीएसई के अधिकारियों के मुताबिक वर्ष 2024 से बोर्ड माइग्रेशन सर्टिफिकेट की हार्ड कापी जारी करने की परंपरा को पूर्ण रूप से खत्म करने जा रहा है। इसलिए इस साल से बोर्ड माइग्रेशन सर्टिफिकेट आनलाइन माध्यम से जारी करेगा। हालांकि, जिन छात्रों को हार्ड कापी ही चाहिए उन्हें बोर्ड की आधिकारिक वेबसाइट पर इस संबंध में आवेदन करना होगा। जो छात्र आवेदन करेंगे केवल उन्हें ही माइग्रेशन सर्टिफिकेट की हार्ड कापी उपलब्ध कराई जाएगी, लेकिन यह सुविधा सिर्फ 2023 तक ही मिल पाएगी। 

बोर्ड के अधिकारियों के मुताबिक बीते साल जिन छात्रों ने कक्षा 10-12 की परीक्षा उत्तीर्ण की है उन सभी का माइग्रेशन सर्टिफिकेट इस साल डिजिलाकर पर अपलोड किया जाएगा। छात्र अपनी लागिन आइडी और पासवर्ड की मदद से डिजिलाकर में लागिन करके माइग्रेशन सर्टिफिकेट डाउनलोड कर सकेंगे। बोर्ड के मुताबिक जो छात्र उच्च शिक्षा के लिए दूसरे स्कूल या कालेज में आवेदन करना चाहते हैं उनकी सहूलियत को ध्यान में रखकर यह निर्णय लिया गया है, क्योंकि छात्रों को प्रमाणपत्र के आनलाइन सत्यापन के दौरान आनलाइन कापी की जरूरत पड़ती है।

25 मार्च को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here