Loading...    
   


SIDHI बस हादसे के लिए मंत्री गोपाल भार्गव ने मंत्री गोविंद सिंह को जिम्मेदार बताया - Madhya pradesh Political news

भोपाल
। मंगलवार को मध्य प्रदेश के सीधी जिले में हुए बस एक्सीडेंट में 51 यात्रियों की मौत हो चुकी है। इसी के साथ हादसे को लेकर राजनीति शुरू हो गई है लेकिन यह राजनीति शिवराज सिंह सरकार के दो मंत्रियों के बीच हो रही है। परिवहन विभाग के डिप्टी कमिश्नर ने हादसे के लिए खराब सड़क को जिम्मेदार बताया तो लोक निर्माण विभाग के मंत्री गोपाल भार्गव ने परिवहन विभाग को एक्सीडेंट का जिम्मेदार बता दिया। जबकि जिम्मेदारी दोनों की है।

बस में क्षमता से अधिक सवारियां थी, इसका ध्यान क्यों नहीं रखा: गोपाल भार्गव

मध्य प्रदेश की सड़कों को दुरुस्त रखने के लिए जिम्मेदार शिवराज सरकार में पीडब्ल्यूडी मंत्री गोपाल भार्गव ने इस हादसे के लिए परिवहन विभाग को जिम्मेदार बताया है। मंत्री का कहना है कि सड़क कैसी थी, इस बात की उन्हें जानकारी नहीं है, लेकिन घटना से बचने के लिए सड़कों को खराब बताना ठीक नहीं है। गोपाल भार्गव का कहना है कि जब बस में क्षमता से अधिक सवारियां भरी हुई थी इसका ध्यान क्यों नहीं रखा गया?

भ्रष्टतंत्र के एक पाये को बचाने के लिए यह सब किया जा रहा है: पीडब्ल्यूडी मंत्री भार्गव

गोपाल भार्गव ने कहा कि किसी प्रशासनिक अधिकारी ने घटना के लिए अगर सड़क को दोष दिया है, तो इस पर उनकी घोर आपत्ति है। मंत्री ने कहा कि अपनी जिम्मेदारियों से बचने के लिए इस तरह के तर्क दिए जा रहे हैं। यह सबकुछ भ्रष्टतंत्र की वजह से हुआ है और अब उसी भ्रष्टतंत्र के एक पाये को बचाने के लिए यह सब किया जा रहा है।

हादसों के लिए सड़कों को ही दोष दिया जाएगा: मंत्री गोपाल भार्गव

गोपाल भार्गव ने कहा कि जिस बस में केवल 30 यात्री बैठ सकते हैं उस बस में 60 यात्रियों को क्यों बैठाया गया? जबकि हादसे का दोष सड़क को दिया जा रहा है। गोपाल भार्गव ने कहा कि पूरे हिंदुस्तान में कई सड़कें खराब है तो क्या इस तरह के हादसों से बचने के लिए सड़कों को ही दोष दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि वह इस तर्क को सही नहीं मानते हैं।

हादसे के लिए जो भी सड़क को दोष दे रहा है, ठीक नहीं है: गोपाल भार्गव

गोपाल भार्गव ने कहा कि सीधी बस हादसे में घटना के सही मामले की जांच होनी चाहिए, जो भी इस मामले में दोषी पाया जाता है उसे सजा भी मिलनी चाहिए लेकिन अगर कोई कह रहा है कि यह घटना खराब सड़क की वजह से हुई है तो यह एक कुतर्क है। उन्होंने कहा कि मुझे इस बात की जानकारी नहीं है कि ऐसा कौन कह रहा है, लेकिन यह बात जो भी कह रहा है तो यह ठीक नहीं है।

परिवहन विभाग के डिप्टी कमिश्नर ने सड़क को खराब बताया है

दरअसल, परिवहन विभाग के डिप्टी कमिश्नर एके सिंह ने हादसे के लिए खराब सड़क को जिम्मेदार बताया था। घटनास्थल का मुआयना करने पहुंचे डिप्टी कमिश्नर का कहना था कि सड़क पर जंपिंग बहुत है। बस की स्पीड तेज थी जिसकी वजह से यह हादसा हुआ। उन्होंने कहा कि स्पीड ज्यादा होने के चलते हो सकता है ड्राइवर बस को संभाल नहीं पाया और बस नहर में गिर गई। 

जिम्मेदारी से बच नहीं सकते गोपाल भार्गव 

भारतीय जनता पार्टी के कुछ नेता कह रहे हैं कि हादसे पर राजनीति नहीं होनी चाहिए परंतु शिवराज सिंह सरकार के अंदर ही हादसे पर राजनीति हो रही है। पंडित गोपाल भार्गव और गोविंद सिंह राजपूत दोनों सागर जिले से आते हैं। दोनों के बीच गुटबाजी, सभी को पता है। हादसे के लिए दोनों विभाग जिम्मेदार हैं। कुछ मामलों में सुप्रीम कोर्ट की रूलिंग है, हादसे के लिए खराब सड़क को जिम्मेदार माना गया है। यह बात सही है कि परिवहन विभाग भी जिम्मेदार है लेकिन पंडित गोपाल भार्गव अपनी जिम्मेदारी से बच नहीं सकते। लांछन तो यह भी लगाया जा सकता है कि ऐसा मंत्री किस काम का जिसे मध्यप्रदेश की खराब सड़कों की जानकारी तक ना हो।

17 फरवरी को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार 



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here