Loading...    
   


GWALIOR: माता के श्राप से डराकर चौकीदार की पत्नी ने अधिकारी की पत्नी से 25 लाख ठग लिए - MP NEWS

ग्वालियर।
मध्य प्रदेश के ग्वालियर जिले में एक महिला को बेटा होने का सपना दिखाकर अन्य महिला ने बीते 6 साल में 20 लाख रुपए कैश, पांच लाख के गहने ठग लिए। महिला को जब भी पैसों की जरूरत होती थी, वह पीड़ित महिला के घर पहुंच जाती थी।   

महिला अपने शरीर में देवी आने का नाटक करती। इसके बाद वह रुपए मांगती। नकदी लेने के बाद शांत हो जाती। रुपए नहीं देने पर श्राप देती थी। घटना वर्ष 2014 से 2020 के बीच डीडी नगर में हुई है। घटना का खुलासा गुरुवार को हुआ। महिला अपने पति के साथ महाराजपुरा थाना पहुंची और शिकायत की। जांच के बाद गुरुवार रात को महाराजपुरा थाना पुलिस ने ठगी का मामला दर्ज कर लिया है।

महाराजपुरा के डीडी नगर निवासी दिलीप भटनागर प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड में पदस्थ है। उनके दफ्तर में ही वालेन्द्र केवट चौकीदार हैं, जिसका घर उनके पास ही है। चौकीदार की पत्नी मीना केवट का दिलीप की पत्नी डोली के पास आना जाना था। दोनों में दोस्ती हो गई थी। डोली के बेटा नहीं था। इसका फायदा उठाते हुए मीना ने उसे बताया कि उसके शरीर में देवी आती हैं। उस समय उनसे जो मनोकामना मांगी जाए, वह पूरी होती है। इसके बाद दिलीप की अनुपस्थिति में मीना उसके घर जाने लगी। वह पूजा-पाठ और देवी के नाम पर डोली से रुपए ऐंठने लगी। मीना के शरीर में जब भी माता आती थीं तो कैश लेकर ही शांत होती थीं।

इस तरह 2014 से 2020 के बीच मीना ने डोली से 20 लाख रुपए नकद, करीब 5 लाख रुपए के जेवरात ऐंठ लिए। साथ ही, धमकाया कि यह बात किसी से कही तो माता का श्राप मिलेगा और कभी बेटा नहीं होगा। जिस कारण महिला चुप रही। कुछ दिन पहले जब मकान खरीदने के लिए दिलीप ने कैश निकालना चाहा, तो पता लगा कि उनकी पत्नी के साथ बीते छह साल से ठगी हो रही थी। इसके बाद वह महाराजपुरा थाना पहुंचे और शिकायत की। गुरुवार रात 8 बजे पुलिस ने इस मामले में मीना केवट पर धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया है। फिलहाल मामले की जांच की जा रही है।

पुलिस को डोली के पति दिलीप भटनागर ने बताया कि उन्होंने यह कैश अपने भाइयों से एकत्रित कर मकान खरीदने के लिए रखा था। जब मकान खरीदने के लिए रुपए मांगे तो पूरे मामले का पता लगा। इसक बाद मीना केवट से रुपए वापस मांगे तो वह माता का डर दिखाने लगी। इसके बाद पुलिस तक आना पड़ा। सीएसपी महाराजपुरा रवि भदौरिया का कहना है कि मामले में एफआईआर दर्ज कर ली गई है। जल्द जांच कर आरोपी को पकड़ा जाएगा।

19 फरवरी को सबसे ज्यादा पढ़ाई जा रही है समाचार 



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here