Loading...    
   


ये रहीं शिक्षकों की समस्याएं, छलावा बंद कर निराकरण कीजिए: कर्मचारी संघ - MP EMPLOYEE NEWS

जबलपुर
।  मध्य प्रदेश तृतीय वर्ग शासकीय कर्मचारी संघ ने जारी विज्ञप्ति में बताया कि स्कूल शिक्षा विभाग फिर एक नया प्रयोग करने जा रहा है। शिक्षकों एवं सेवानिवृत्त शिक्षकों की समस्याओं का नियत समय सीमा में निराकरण करने के नाम पर परिवेदना निवारण प्रबंधन प्रणाली विकसित कर शिक्षकों को अपनी समस्याएं ऑनलाइन दर्ज कराने हेतु कहा जा रहा है। 

प्रदेश शिक्षकों/ सेवानिवृत्त शिक्षकों की जो भी समस्याऐं है वे शासन स्तर पर ही लंबित है।  द्वितीय क्रमोन्नति शिक्षकों को जो 01-08-2003 से देय है उसे अन्य कर्मचारियों की भांति 19-04-1999 से लागू करना। नियुक्ति दिनांक से पूर्ण वेतनमान एवं बीएड/डीएड प्रशिक्षण उपरांत वेतन वृद्धि का लाभ दिया जाना जिसके लिए शिक्षकों को माननीय न्यायालय की शरण में जाना पड़ता है जबकि शासन स्तर से यदि उक्त समस्याओं का निराकरण हो जाता है तो लाखों शिक्षक/ सेवानिवृत्त शिक्षक लाभान्वित होंगे और उन्हें न्यायालय की शरण नहीं लेना होगी।

संघ के नरेंद्र दुबे आलोक अग्निहोत्री सतीश उपाध्याय ओपी तिवारी राजेश बाजपेई मुन्ना लाल पटेल आशुतोष तिवारी सुरेंद्र जैन बृजेश मिश्रा डॉ संदीप नेमा संत कुमार छिपा देवेंद्र प्रताप सिंह गोविंद बिल्थरे रजनीश तिवारी डी डी गुप्ता मोहम्मद तारिक धीरेंद्र सोनी संतोष तिवारी प्रियांशु शुक्ला महेश कोरी आदि ने माननीय मुख्यमंत्री मध्यप्रदेश शासन को ईमेल कर मांग की है कि शिक्षकों की उक्त  समस्याओं का निराकरण किया जावे। 

04 जनवरी को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here