Loading...    
   


MBBS छात्रों ने व्यापारी के चेहरे पर बियर बोतल फेंककर मारी, गार्ड को पीटा - BHOPAL NEWS

भोपाल।
 मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल के कोलार इलाके के एक कवर्ड कैंपस में शुमार सागर प्रीमियम टॉवर में एलएन मेडिकल कॉलेज के 4 एमबीबीएस छात्रों ने शनिवार रात करीब 12 बजे जमकर उत्पात मचाया। सभी शराब पीकर गाली गलौज कर रहे थे, जिससे रहवासी दहशत में आ गए। 

कॉलोनी के सुरक्षा गार्ड ने टोका तो डंडा छीनकर उससे मारपीट कर दी। एक ने दांत से उसकी उंगली काट ली। रहवासी व्यापारी ने विरोध किया तो आरोपियों ने उनके चेहरे पर बियर की बोतल फेंककर मार दी। रहवासियों को इकट्ठा होते देख आरोपियों ने खुद को फ्लैट में बंद कर लिया और शराब की बोतल नीचे फेंकने लगे। कोलार पुलिस को दरवाजा खुलवाने में करीब 20 मिनट का वक्त लगा। पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ मारपीट समेत अन्य धाराओं में केस दर्ज कर लिया है।

ए-ब्लॉक की पांचवी मंजिल पर रहने वाले 58 वर्षीय अनिल नागरुरकर व्यापारी हैं। इसी ब्लॉक की पहली मंजिल का फ्लैट एलएन मेडिकल कॉलेज के 4 छात्रों ने किराए पर लिया है। टीआई सुधीर अरजरिया ने बताया कि शनिवार रात पार्टी के दौरान आपस में गाली-गलौज कर रहे थे। शोर शराबा सुनकर रहवासियों ने अपने सोशल मीडिया ग्रुप पर इसकी जानकारी साझा की।

अनिल नीचे उतरकर आए तो देखा कि चारों छात्र कॉलोनी के सुरक्षा गार्ड से गाली-गलौज कर रहे थे। इस बीच रुद्र नामक युवक ने डंडा छीनकर गार्ड से मारपीट की फिर उसके हाथ पर दांत से काट लिया। अनिल ने विरोध किया तो निकुंज नामक छात्र ने बियर की बोतल फेंककर मारी जो उनके चेहरे पर जा लगी। रहवासियों को इकट्ठा होते देख आरोपियों ने खुद को कमरे में बंद कर लिया।

एसआई एवी मर्सकोले ने बताया कि डायल 100 को मिले इवेंट के बाद मैं भी कॉलोनी में पहुंच गया। उस वक्त छात्र अपने फ्लैट से ही शराब की बोतलें नीचे फेंक रहे थे। उनका उपद्रव देख नाइट में तैनात एफआरवी और चार्ली को भी बुला लिया। हमने आवाज दी, लेकिन छात्रों ने दरवाजा नहीं खोला। दरवाजा खुलवाने में हमें करीब 20 मिनट लग गए। दरवाजा खुलते ही हम उन्हें पकड़कर कोलार थाने ले आए।

टीआई ने बताया कि अनिल की शिकायत पर पुलिस ने 4 छात्रों के खिलाफ गंभीर मारपीट समेत अन्य धाराओं में केस दर्ज कर लिया है। पुलिस ने निकुंज प्रताप, रूद्र प्रतीक तिवारी, दीक्षित कौशिक और विकास चौधरी को आरोपी बनाया है। मामला जमानती अपराध का था, इसलिए उन्हें रात में ही थाने से जमानत दे दी गई। इस कार्रवाई की सूचना उनके कॉलेज प्रबंधन को भी दी जा रही है।

04 जनवरी को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here