Loading...    
   


JABALPUR में 16 साल की लड़की का अपहरण, गैंगरेप और हत्या, खाकी पर एक और दाग - MP NEWS

सिहोरा/जबलपुर।
ठगी के आवेदन पर रिश्वत वसूली के लिए बार-बार नोएडा जाने वाली जबलपुर पुलिस एक लड़की के अपहरण हो जाने पर एक्टिव नहीं हुई। नतीजा, लड़की का गैंग रेप किया गया और उसके बाद उसकी हत्या कर दी गई। इस कहानी में शुरू से अंत तक पुलिस सिर्फ 2 बार नजर आती है। पहली बार लड़की के अपहरण के 24 घंटे बाद मामला दर्ज किया और दूसरी बार लड़की की लाश मिल जाने के बाद कागजी कार्रवाई के लिए।

शाम को शौच के लिए पहाड़ी पर गई थी, वहीं से गायब हो गई

सिहोरा पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार 31 दिसंबर की शाम 5:00 बजे रमेश बर्मन निवासी ग्राम दर्शनी टोला की 16 वर्षीय पुत्री खेत में माता पिता के साथ रहकर काम करती थी। 31 दिसंबर की शाम 5:00 बजे वह शौच के लिए खेत के पास ही लगी पहाड़ी में अपनी मां को बता कर गई थी। काफी देर बाद जब पुत्री वापस नहीं लौटी तो उसकी तलाश में उसकी मां वैजयंती बाई गई जहां उसने अपनी बेटी की तलाश लेकिन उसका कहीं पता नहीं चला। 

लड़की ने बचाने की गुहार लगाई थी, तत्काल पुलिस को भी बताया था

लौट कर उसने मामले की जानकारी अपने पति रमेश को दी जिसके पश्चात रमेश भी अपने भाई लक्ष्मण और बेटे कमलेश के साथ अपनी बेटी की तलाश शुरू की करीब 3 घंटे तक ढूंढने के बाद बेटी नहीं मिली। रात करीब 2:00 बजे रमेश के पास किसी अज्ञात नंबर से फोन आया, इस कॉल पर लड़की बचाने की गुहार लगा रही थी। घबराए पिता ने तत्काल पुलिस को बताया लेकिन पुलिस एक्टिव नहीं हुई। (मध्यप्रदेश में पुलिस की आम धारणा है कि 16 साल की लड़की यदि लापता हुई है तो किसी ना किसी के साथ भाग गई होगी।)

24 घंटे बाद पुलिस ने मामला दर्ज किया

1 जनवरी 2021 को पुलिस ने पिता की शिकायत पर धारा 363 के तहत मामला पंजीबद्ध किया, क्योंकि सुप्रीम कोर्ट की गाइडलाइन है लेकिन इसे अपहरण नहीं माना और परिवारवालों से ही लड़की को तलाशने के लिए कहा। 3 जनवरी को रमेश अपने साले जागेश्वर बर्मन और भाई लक्ष्मण के साथ लड़की की तलाश शारदा माई की पहाड़ी में की तभी जागेश्वर को लड़की की लाश पड़ी हुई दिखाई दी। परिवार के लोगों ने ही पुलिस को सूचना दी। 

पिता ने बताया बेटी ने फोन पर कहा मुझे बचा लो

घटना के विषय में जानकारी देते हुए मृतक बेटी के पिता रमेश बर्मन ने बताया की 31 दिसंबर की रात करीब 2:00 बजे बेटी ने किसी के फोन से उससे बात की और कहा कि पापा मुझे बचा लो। जानकारी देते हुए रमेश ने कहा कि बेटी बहुत ज्यादा डरी हुई थी और मुझे बचाने को कह रही थी जिसके बाद हम उसे तलाश करने शारदा माता पहाड़ी पर भी गए लेकिन उसका सुराग नहीं लग सका।

अपहरण के साथ सामुहिक दुष्कर्म के बाद हत्या

सिहोरा पुलिस के अनुसार घटना में प्रथम दृष्टया हत्या का मामला दिखाई दे रहा है लेकिन क्षेत्रीय लोगों के अनुसार नाबालिग लड़की का अपहरण कर उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म कर हत्या करने का मामला चर्चा में है हालांकि पुलिस हत्या अपहरण और बलात्कार से संबंधित सभी पहलुओं पर जांच कर रही है।

इनका कहना है-
शारदा माता पहाड़ी में एक नाबालिग लड़की की लाश मिली है जिसकी 3 दिन पहले परिजनों ने पुलिस को सूचना दी थी जिसके तहत धारा 363 का मामला दर्ज कर लड़की की तलाश की जा रही थी घटना की सभी पहलुओं पर जांच की जा रही है।
गिरीश धुर्वे, थाना प्रभारी सिहोरा

04 जनवरी को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here