Loading...    
   


GWALIOR MELA: ना सिंधिया की रुचि ना सरकार की, गिड़गिड़ाने वाले व्यापारी गुस्से में

ग्वालियर
। कोरोनावायरस संक्रमण के बीच सरकार ने चुनाव करा ली है लेकिन कोविड-19 सेंटर बंद (पॉजिटिविटी रेट न्यूनतम से भी कम होना) करने के बावजूद ग्वालियर मेला के मामले में सरकारी कलम चलने का नाम नहीं ले रही है। आयोजन के लिए जय विलास पैलेस के दरबार से लेकर भोपाल में सीएम शिवराज सिंह के घर तक गिड़गिड़ाने वाले व्यापारी अब गुस्से में है। संघ के अध्यक्ष ने शासन को खुली चेतावनी दी है कि अब बहुत हुआ केवल दो-तीन दिन और देखेंगे, यदि तब भी मेले की स्वीकृति नहीं मिलती तो फिर दुकानदार खुद मेला लगा लेंगे, इसके लिए फिर उन्हें कुछ भी करना पड़े। 

सिंधिया, तोमर और शिवराज सबके सामने झोली फैला चुके हैं व्यापारी

उल्लेखनीय है कि हर साल मेला की तैयारियां अक्टूबर-नवंबर से शुरु हो जाती थीं, पानी, सफाई सहित अन्य सुविधाओं के लिए भी टेंडर मंगालिए जाते थे, लेकिन इस बार मेला आयोजन पर आरंभ से ही संशय बना रहा, जिसके चलते किसी भी तैयारी पर ध्यान नहीं दिया गया, जब मेला व्यवसायी संघ ने देखा कि आयोजन खटाई में है, तब संघ सक्रिय हुआ और ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर के साथ ही, पूर्व केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया, सांसद विवेक शेजवलकर, केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर सहित तमाम नेताओं से मिलकर मेला के लिए अनुमति दिलवाने की गुहार लगाई। 

मंत्री सखलेचा ने ग्वालियर मेला आयोजन पर अड़ंगा लगा दिया

अभी मेला दुकानदार तैयारियां शुरु भी नहीं कर पाए थे कि मंत्री सखलेचा ने यह कहकर मामले को उलझा दिया कि कैबिनेट की बैठक में यह मामला रखा जाएगा, उसके बाद अंतिम फैसला होगा, जिससे दुकानदारों की उम्मीद तो टूटी साथ ही मेला आयोजन फिर लटक गया। यहां सवाल यह है कि जब तक यह बैठक होगी मेला लगाने का समय ही निकल जाएगा, तब यदि हां होती भी है तो फिर उसका कोई मतलब नहीं। मामला हाथ से जाते देख अंतत: अपनी मजबूरियां गिनाते हुए मेला व्यवसायी संघ ने शासन को चेतावनी दे दी है कि अब वह खुद मेला लगा लेंगे।

पहले कहा था ग्वालियर मेला 15 जनवरी को लगेगा

22 दिसम्बर 2020 को सूक्ष्म, लघु, मध्यम उद्यम मंत्री श्री ओमप्रकाश सखलेचा ने कहा था कि मध्यप्रदेश का प्रसिद्ध ग्वालियर व्यापार मेला 15 जनवरी के आसपास आयोजित किया जाएगा। मंत्री श्री सखलेचा से मंत्रालय वल्लभ भवन में मंगलवार को कन्फेडरेशन आफ आल इंडिया ट्रेडर्स के साथ ग्वालियर व्यापार मंडल के पदाधिकारियों ने भेंटकर मेले की तैयारियों के सम्बन्ध में जानकारी दी थी।

7 जनवरी से मिला लगाएंगे, सरकार कुछ भी करें

मेला व्यवसायी संघ के अध्यक्ष महेन्द्र भदकारिया ने कहा है कि मेले के लिए सभी प्रयास कर लिए, लेकिन कोई भी दुकानदारों की मजबूरी, उनकी आर्थिक स्थिति को गंभीरता से लेने को तैयार नहीं है। अब किसी भी अनुमति को केवल दो से तीन दिन इंतजार किया जाएगा, इसके बाद मेला लगा लेंगे। 

04 जनवरी को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here