Loading...    
   


दिल तो महिलाओं का कमजोर होता है फिर हार्ट अटैक पुरुषों को क्यों आता है - GK IN HINDI

Why do men suffer from heart attack while women are weak for heart

मेडिकल डिपार्टमेंट के आंकड़े बताते हैं कि हार्टअटैक का शिकार होने वाले और हार्टअटैक से मरने वाले इंसानों में सबसे ज्यादा संख्या 40 वर्ष से अधिक उम्र वाले पुरुषों की होती है। जबकि भारतीय सामाजिक व्यवस्था में अक्सर कहा जाता है कि महिलाओं का दिल कमजोर होता है। यही कारण है कि महिलाओं के साथ संवेदनशील व्यवहार की अपेक्षा की जाती है। सवाल यह है कि जब महिलाओं का दिल कमजोर होता है तो फिर हार्टअटैक पुरुषों को क्यों आता है। आइए मेडिकल साइंस पूछकर सरल हिंदी में समझते हैं:- 

हार्ट अटैक से मरने वालों में 86% पुरुष, 14% महिलाएं

सीने में बाईं तरफ धड़कने वाले 2.89 ग्राम के दिल का लाइफ में कितना बड़ा रोल होता है यह बताने की जरूरत नहीं, क्योंकि आप से अच्छा कौन जान सकता है। सरकारी रिकॉर्ड बताते हैं कि प्रत्येक हार्ट अटैक के कारण होने वाली 25000 मौतों में से महिलाओं की संख्या करीब 3500 होती है। यानी हार्टअटैक से मरने वालों में लगभग 86% पुरुष होते हैं।

हार्ट अटैक से मरने वालों में 36% पुरुषों की उम्र 14 से 45 वर्ष 

यह बड़ा ही चौंकाने वाला आंकड़ा है। कुछ सालों पहले तक कहा जाता था कि हार्ट अटैक हमेशा उम्र दराज पुरुषों को आते हैं लेकिन पिछले कुछ सालों के रिकॉर्ड बता रहे हैं कि 14 साल से लेकर 45 साल के पुरुषों में दिल का मामला काफी गड़बड़ हो रहा है। पता नहीं कहां दिल लगा रहे हैं। हार्ट अटैक से मरने वाले 86% पुरुषों में से 36% पुरुषों की उम्र 14 से 45 साल के बीच थी। 

यह बताओ, पुरुषों को हार्ट अटैक क्यों आता है महिलाओं को क्यों नहीं 

करोड़ों रुपए का लोन लेकर अस्पतालों को फाइव स्टार होटल जैसा बनाने वाले डॉक्टर लगातार मरीजों की संख्या बढ़ाने की कोशिश कर रहे हैं। कई प्रकार की स्टडी सामने रखकर यह साबित करने की कोशिश कर रहे हैं कि महिलाओं में हार्ट अटैक का खतरा ज्यादा होता है और कई महिलाएं हार्ट अटैक के कारण मर जाती है जबकि किसी को पता भी नहीं चलता। यह सब गलत बात है। क्योंकि अप्राकृतिक मृत्यु की स्थिति में जांच करने वाले डॉक्टर को मृत्यु का कारण लिखना होता है। सरकारी आंकड़े अपन ऊपर डिस्कस कर चुके हैं। 

दरअसल बात यह है कि महिलाओं का दिल केवल एक पुरुष से लगा होता है और पुरुष के दिल में कई तरह के टंटे पल रहे होते। हार्ट अटैक का सबसे बड़ा कारण पुरुष की प्रोफेशनल लाइफ होती है। व्यापार हो या फिर नौकरी, इसका तनाव इतना अधिक होता है कि पुरुष की दिनचर्या और डाइट पूरी तरह से गड़बड़ हो जाती है। तनाव की स्थिति में पुरुष ज्यादा चाय पीते हैं या फिर ज्यादा मात्रा में शराब,सिगरेट पी जाते हैं। मसालेदार खाना भी तनाव को कम करने की कोशिश होता है। नतीजा शरीर को दिल से कनेक्ट करने वाली आर्टिरीज में कचरा (डर्टी कोलेस्ट्रॉल) भर जाता है। शरीर को पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन मिलना बंद हो जाती है। पुरुष जब खर्राटे देता है तो पूरा घर मजाक उड़ाता है कोई यह नहीं समझ पाता कि उसे पर्याप्त ऑक्सीजन नहीं मिल पा रही है। हार्ट अटैक का खतरा है। Notice: this is the copyright protected post. do not try to copy of this article (current affairs in hindi, gk question in hindi, current affairs 2019 in hindi, current affairs 2018 in hindi, today current affairs in hindi, general knowledge in hindi, gk ke question, gktoday in hindi, gk question answer in hindi,)


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here