Loading...    
   


BHOPAL का हलाली डैम नरसंहार की याद दिलाता है, नाम बदलना चाहिए: उमा भारती - MP HINDI SAMACHAR

भोपाल
। भोपाल में नाम बदलने की प्रक्रिया सतत जारी है। शुरुआत में सीएम शिवराज सिंह चौहान ने भोपाल शहर का नाम बदलकर भोजपाल करने की कोशिश की थी। विधानसभा अध्यक्ष रामेश्वर शर्मा चाहते हैं कि ईदगाह हिल्स का नाम बदलकर गुरुनानक टेकरी कर दिया जाए। प्रभात झा हबीबगंज रेलवे स्टेशन को अटल जंक्शन नाम देना चाहते हैं। सीएम शिवराज सिंह चौहान 11 नंबर, 10 नंबर, 1250, 1100 क्वार्टर, आदि स्थानों के नाम बदलना चाहते हैं और इस लिस्ट में अब पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती का नाम जुड़ गया है। सुश्री उमा भारती हलाली डैम का नाम बदलना चाहती है।

भोपाल के राजा मोहम्मद खां ने मित्र राजाओं का धोखे से सामूहिक नरसंहार किया था

उमा भारती ने हलाली डैम के संबंध में एक पत्र बैरसिया से बीजेपी विधायक विष्णु खत्री को लिखा है। जिसमें उन्होंने कहा है कि बैरसिया क्षेत्र में एक चर्चित स्थान हलाली डैम का नाम बार-बार आता है। भोपाल शहर के बाहर प्रचलित हलाली नाम का स्थान एवं नदी, दोनों विश्वाघात की उस कहानी की याद दिलाती है, जिसमें मोहम्मद खां ने भोपाल के आसपास के अपने मित्र राजाओं को बुलाकर उन्हें धोखा देकर उनका सामूहिक नरसंहार किया था। उनका खून इसी नदी में बहाया था। 

हलाली शब्द विश्वासघात की याद दिलाता है इसलिए हलाली डैम का नाम बदलना चाहिए

उमा भारती ने कहा कि हलाली शब्द और स्थान उसी प्रसंग का स्मरण करता है। विश्वासघात, धोखाधड़ी और अमानवीयता यह सब हलाली शब्द के आगे आते हैं। उन्होंने पत्र में खत्री से कहा- मैने सुना है कि इसे पर्यटन केंद्र बनाया जा रहा है, क्योंकि वहां डैम और नदी है। यह एक अच्छी बात है लेकिन तुरंत संस्कृति एवं पर्यटन मंत्री उषा ठाकुर से संपर्क करके घृणा पैदा करने वाले इस नाम का उल्लेख बंद कराएं। उन्होंने कहा कि वे भी उषा ठाकुर को इस पत्र की एक प्रति भेज रही हैं।

25 जनवरी को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here