Loading...    
   


मध्य प्रदेश में 900 से ज्यादा शिक्षक अयोग्य, 577 की नौकरी खतरे में - MP EDUCATION DEPARTMENT NEWS

भोपाल
। मध्य प्रदेश में 900 से ज्यादा शिक्षक अयोग्य पाए गए हैं। शिक्षक दक्षता परीक्षा के दौरान 10200 शिक्षकों को भाग लेना था लेकिन 577 शिक्षा का अनुपस्थित रहे इसलिए उनकी नौकरी खतरे में आ गई है और 900 से ज्यादा शिक्षक अयोग्य पाए गए हैं। 

10वीं व 12वीं के शिक्षकों की दक्षता परीक्षा के बाद अब दूसरे दिन मिडिल स्कूलों के शिक्षकों की दक्षता परीक्षा का आयोजन किया गया। परीक्षा होने के बाद इनका सेंटर पर ही मूल्यांकन करा लिया गया। इसके बाद संचालनालय लोक शिक्षण( DPI) में शिक्षकों की जानकारी भेज दी गई है। वहां इनके रिजल्ट का आकलन किया जा रहा है। विभाग संभवतः एक-दो दिन बाद शिक्षकों को परिणाम की जानकारी भेज देगा।

माध्यमिक शिक्षा मंडल मध्यप्रदेश भोपाल द्वारा आयोजित 10वीं और 12वीं की परीक्षा में 40% से कम रिजल्ट वाले स्कूलों के शिक्षकों की दक्षता परीक्षा ली गई थी। यह परीक्षा में 10200 शिक्षकों को देनी थी परंतु इनमें से 577 शिक्षक गैरहाजिर रहे।

शिक्षकों की दक्षता परीक्षा में भोपाल के चार और प्रदेश भर में 900 से ज्यादा शिक्षक फेल हो गए हैं। इस दक्षता परीक्षा में 48% से कम अंक लाने वाले शिक्षकों को ट्रेनिंग दी जाएगी। इसके बाद मार्च अंत में इन्हें दक्षता सिद्ध करने के लिए दोबारा परीक्षा देनी होगी। गौरतलब है कि शिक्षा विभाग ने कम रिजल्ट वाले स्कूलों के शिक्षकों कि पिछले साल भी दक्षता परीक्षा ली थी और उस फेल हुए 16 शिक्षकों को अनिवार्य सेवानिवृत्ति दे दी गई थी। जिसका शिक्षकों के संगठनों ने पूरी तरह विरोध किया था और उन्हें बहाल करने की मांग की थी।

7 जनवरी को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे हैं समाचार



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here