Loading...    
   


अरब के बादल भोपाल पहुंचे, पानी बरसा, ठंड बढ़ी, पढ़िए मौसम का पूर्वानुमान - BHOPAL WEATHER FORECAST

भोपाल
। अरब सागर और बंगाल की खाड़ी से उठे बादल भोपाल पहुंच गए हैं। शुक्रवार सुबह 6:30 बजे भोपाल के आसमान पर बादल आ चुके थे और हल्की बूंदाबांदी हुई। इसी के साथ हवा में नमी आ गई और ठंड बढ़ गई। समाचार लिखे जाते समय (10:30 बजे बजे) भोपाल जिले के 40% हिस्से पर बूंदाबांदी हो चुकी थी। हवा में 74% नमी है और हवा 13 किलोमीटर प्रति घंटा की गति से चल रही है। कुल मिलाकर भोपाल में ठंड बढ़ रही है।

मौसम विभाग का पूर्वानुमान
मौसम वैज्ञानिक हरिशंकर पांडे का कहना है कि दक्षिण पूर्व अरब सागर में कम दबाव का क्षेत्र बना हुआ है, साथ ही गुजरात की तरफ से नमी आनी शुरू हो गई है। इस वजह से प्रदेश में बादल छा गए हैं और बारिश होने की संभावना है। उन्होंने बताया कि पश्चिम राजस्थान के ऊपर चक्रवातीय परिसंचरण समुद्र तल से 1.5 किमी की ऊंचाई पर सक्रिय है। पश्चिमी विक्षोभ मध्य और ऊपरी क्षोभ मंडल की पछुआ पवनों के बीच एक टर्फ के रूप में समुद्र तल से 5.8 किमी की ऊंचाई पर धुरी बनाते हुए सक्रिय हैं।

जैसा कि अनुमान लगाया गया था रात में रतलाम से लेकर सुबह भोपाल तक कई स्थानों पर बादल घिर आए हैं एवं बारिश हुई है। रतलाम से पचमढ़ी तक मौसम बदल गया है। पचमढ़ी में तापमान तेजी से नीचे गिर रहा है। आडवाणी की ठंडी हवाओं की स्पीड 13 किलोमीटर प्रति घंटा होगी। इसका अर्थ हुआ कि ठंड और ज्यादा बढ़ेगी। 

इंदौर और उज्जैन में बारिश की संभावना - WEATHER FORECAST

मौसम विभाग के मुताबिक, मध्‍य प्रदेश में आने वाले दो दिन मौसम के हिसाब से उतार-चढ़ाव वाले होंगे। इंदौर और उज्जैन में बारिश होने के संभावना है। रतलाम में दो दिन और बूंदा-बांदी हो सकती है. बुधवार को यहां का न्यूनतम तापमामन 14.4 डिग्री दर्ज किया गया था। पचमढ़ी में जहां तापमान गिरने से ठंड बढ़ी है, तो वहीं खरगौन अभी भी गर्म बना हुआ है। प्रदेश में बादल छाने से रात का तापमान हल्का बढ़ सकता है।

11 दिसम्बर को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here