Loading...    
   


JABALPUR में प्रॉपर्टी के लिए बेटे ने पिता की हत्या की, भाभी गंभीर - MP NEWS

जबलपुर।
 मध्य प्रदेश के जबलपुर में संपत्ति के विवाद में युवक ने कैंची घोंप कर अपने ही पिता की हत्या कर डाली। आरोपी ने भाभी को भी घायल कर दिया। मेडिकल में वह जिंदगी और मौत से जूझ रही है। उसकी अंतड़ियां बाहर निकल आई हैं। गोहलपुर पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। उससे हत्या में प्रयुक्त कैंची भी जब्त कर ली है। 

पुलिस के अनुसार सूजीपुरा कोष्टा मोहल्ला निवासी अताई लाल कोष्टा (71) के दो बेटे हैं। अताई लाल बड़े बेटे व बहू के साथ वह पत्नी संग रहते थे। छोटा बेटा मनीष कोष्टा पत्नी के साथ अलग रहता है। संपत्ति अभी अताई लाल कोष्टा के ही नाम है। छोटा बेटा मनीष कई दिनों से पिता पर बंटवारे का दबाव डाल रहा था। रविवार को भी उनके बीच इसे लेकर कहासुनी हुई थी। सोमवार दोपहर मनीष बंटवारे की बात करने पिता के पास पहुंचा। उस समय घर में अताई लाल कोष्टा के अलावा बहू शिखा (42) दोनों पोती 14 वर्षीय खुशी कोष्टा व छोटी श्रेया और रिश्तेदारी में आईं वृद्धा मौजूद थीं।

वारदात की चश्मदीद 9वीं में पढ़ने वाली खुशी कोष्टा की आखों में इस खौफनाक मंजर की तस्वीर कैद सी हो गई है। खुशी ने रोते हुए पुलिस को बताया कि 'चाचा मनीष के सिर पर खून सवार था। वह आते ही दादा (अताई लाल) से दो-तीन बार जोर से बोलने लगे। मां (शिखा) अंदर किचन में थी। चाचा की तेज आवाज पर टोका, तो उसने कैंची निकाल कर मां पर वार कर दिया। दादा पहुंचे, तो उनके पेट भी कैंची घोंप दिया। वह मौके पर ही बेहोश हो गए। मां की अंतड़ियां बाहर निकल आईं। चाचा ने उनके पेट, पीठ व हाथ में कैंची से वार किया था। मैं चाचा को लगातार रोक रही थी, लेकिन वह नहीं रुके। छोटी बहन उस समय शौचालय में थी।'

मनीष ने इस खूनी खेल को घर के अंदर अंजाम दिया। आंगन में चारों ओर फैले खून छींटे इस नृशंस हत्या की गवाही दे रहे थे। शोर सुनकर आसपास के लोग पहुंचे। उन्होंने मनीष को गोहलपुर पुलिस को सौंप दिया। दोनों घायलों को अलग-अलग अस्पताल पहुंचाया गया। निजी अस्पताल से मेडिकल रैफर करने पर रास्ते में ही अताई लाल कोष्टा ने दम तोड़ दिया। वहीं, शिखा को भी निजी अस्पताल से मेडिकल रैफर कर दिया गया है, जहां उसकी हालत नाजुक बनी हुई है। घटनास्थल की जांच करने एफएसएल टीम पहुंची थी।

भाईदूज पर पत्नी भागवती कोष्टा बड़े बेटे दिनेश कोष्टा के साथ मायके में भाई से मिलने गई थी, तभी घर में बेटे ने खूनी खेल खेला। पति की हत्या व बहू पर जानलेवा वार की खबर सुनकर मां-बेटे घर पहुंचे। वहां का नजारा देख दोनों सन्न रह गए। बेटियों ने पूरा वाकया सुनाया। मौके पर सीएसपी अखिलेश गौर, टीआई आरके गौतम पहुंचे थे। पुलिस ने आरोपी मनीष के खिलाफ हत्या व हत्या के प्रयास का प्रकरण दर्ज कर जांच में लिया है।

17 नवम्बर को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here