Loading...    
   


कमलनाथ की बजाय ज्योतिरादित्य सिंधिया का वजन बढ़ा गए सचिन पायलट - GWALIOR NEWS

भोपाल
। राजस्थान के युवा तुर्क एवं कांग्रेस नेता श्री सचिन पायलट मध्यप्रदेश उपचुनाव में कांग्रेस पार्टी की तरफ से स्टार प्रचारक के रूप में आए थे परंतु कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ की बजाए अपने पुराने मित्र एवं भाजपा नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया का वजन बढ़ाकर चले गए। 

सभाओं में सिर्फ शिवराज पर निशाना, सिंधिया की तरफ इशारा तक नहीं किया 

मध्यप्रदेश विधानसभा उपचुनाव में कांग्रेस पार्टी का मुख्य एजेंडा "गद्दारी" है। कांग्रेस का कहना है कि जिन लोगों ने विधायक पद पर चुने जाने के बाद इस्तीफा दिया और मध्य प्रदेश पर उपचुनाव थोप दिया, वह लोग लोकतंत्र के लिए गद्दार है। इन लोगों में ज्योतिरादित्य सिंधिया, उनके साथ 16 विधायक एवं शेष 9 विधायक शामिल है। सचिन पायलट ने अपनी सभाओं में इस बारे में कोई बात नहीं की। उन्होंने केवल मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और भारतीय जनता पार्टी पर हमले किए। 

सिंधिया और सचिन एयरपोर्ट पर मिले, दोस्ती बरकरार है 

ज्योतिरादित्य सिंधिया ने बताया कि ग्वालियर एयरपोर्ट पर उनकी सचिन पायलट से मुलाकात हुई। उन्होंने ग्वालियर में सचिन पायलट का स्वागत किया। दरअसल दोनों की टाइमिंग कुछ इस तरह की थी कि उनकी मुलाकात ग्वालियर एयरपोर्ट पर हो जाए। अपनी मुलाकात के बारे में मीडिया को बताकर ज्योतिरादित्य सिंधिया ने अपना मैसेज क्लियर कर दिया।

28 अक्टूबर को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here