Loading...    
   


मध्य प्रदेश पुलिस कर्मचारियों के जिले से बाहर जाने पर प्रतिबंध / MP EMPLOYEE NEWS

भोपाल। मध्य प्रदेश पुलिस मुख्यालय ने पुलिस कर्मचारियों के लिए जारी की गई कोरोनावायरस गाइडलाइन के पालन हेतु कड़े निर्देश जारी किए। पुलिस हेड क्वार्टर ने सभी जिलों के एसपी को निर्देशित किया है कि वह अपने अधीनस्थ सभी कर्मचारियों से गाइडलाइन का पालन सुनिश्चित करवाएं। गाइडलाइन का सबसे सख्त पहलू यह है कि कोई भी पुलिस कर्मचारी किसी भी स्थिति में अपनी पदस्थापना वाला जिला छोड़कर नहीं जा सकता। अवकाश या शासकीय काम से भी नहीं जा सकता। यहां तक की कोई भी पुलिस अधीक्षक किसी भी पुलिस कर्मचारी को जिले से बाहर जाने की अनुमति नहीं दे सकता।

सभी पुलिसकर्मी गाइडलाइन का पालन करें

मध्य प्रदेश में आईपीएस से लेकर कॉन्स्टेबल रैंक के अधिकारी कर्मचारियों की डेढ़ लाख की फोर्स है। पुलिस मुख्यालय ने अपने पत्र में लिखा है कि मुख्यालय के द्वारा जारी की गई गाइडलाइन का पुलिसकर्मी पालन नहीं कर रहे हैं। साथ ही वह अपने घर जाते हैं उस समय भी नियमों का पालन नहीं करते हैं। ऐसे में संक्रमण फैलने का खतरा रहता है। पुलिस के कार्य स्थल पर ही नहीं बल्कि उनके परिवार में भी संक्रमण फैलने का खतरा बना हुआ है। ऐसे में मुख्यालय ने हिदायत दी है कि सभी पुलिसकर्मी गाइडलाइन का पालन करें।

पुलिस कर्मचारियों से गाइडलाइन का पालन कराने हेतु एसपी जिम्मेदार

पुलिस मुख्यालय ने हाल ही में सभी जिलों के एसपी को पत्र लिखकर गाइडलाइन का पालन कराने के लिए कहा है। मुख्यालय ने कहा है कि जिले के एसपी की जिम्मेदारी रहेगी कि वह पुलिसकर्मियों को मुख्यालय के द्वारा जारी की गई तमाम गाइडलाइन का पालन करायें। 

इमरजेंसी में यदि बाहर जाना पड़ा तो आईजी से परमिशन लेनी होगी

मुख्यालय का यह भी कहना है कि किसी पुलिस जवान को मेडिकल इमरजेंसी है या फिर दूसरा जरूरी काम है तो वह आवेदन आईजी के पास लगाएगा और आईजी जब मंजूरी देगा तभी वह उस मंजूरी के तहत दूसरे जिले में जा सकेगा। 

पुलिस विभाग में डाक व्यवस्था बंद, ईमेल किया जाएगा

पुलिस मुख्यालय ने सभी एसपी को जो पत्र लिखा है, जिसमें किसी भी पुलिसकर्मी को एक ऑफिस से दूसरे पुलिस ऑफिस में नहीं जाने की सलाह दी गई है। साथ ही जितने भी पुलिस के कामकाज है सभी कामकाज ऑनलाइन हो। पुलिस में जो डाक व्यवस्था है उसे बंद कर ई-मेल का सहारा लिया जाए। ईमेल के जरिए तमाम पत्राचार किए जाए। कम से कम दस्तावेजों का इस्तेमाल किया जाए। 

ऑफिशियल कामकाज के लिए भी जिले से बाहर नहीं जाएंगे पुलिस कर्मचारी

मध्य प्रदेश के पुलिस मुख्यालय ने यह भी कहा है कि कोई भी पुलिसकर्मी किसी भी काम के लिए दूसरे जिले में न जाए। ज्यादा से ज्यादा डिजिटल प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल किया जाए।

02 अगस्त को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

MP BOARD 10th-12th सप्लीमेंट्री एग्जाम का ऑफिशियल नोटिफिकेशन
लैपटॉप की चार्जर में यह काले चूहे जैसा उपकरण क्या होता है
अब बिना OTP के नहीं मिलेगा रसोई गैस सिलेंडर
COLLEGE EXAM को लेकर UGC ने फिर से बयान जारी किया
दुनिया का पहला इमोजी किसने और क्यों बनाया, यहां पढ़िए
मध्य प्रदेश के 42 जिलों में 808 कोरोना पॉजिटिव, एक्टिव केस बढ़कर 8769 हुए
भाजपा नेता का फोन आया तो कोरोना नेगेटिव को पॉजिटिव लिख दिया
इंदौर कलेक्टर ने कोरोना ड्यूटी में लगी 1 हजार से अधिक बहनों को दिया राखी गिफ्ट
मध्यप्रदेश में राखी के बाजार को लेकर कैलाश विजयवर्गीय, सीएम शिवराज सिंह से नाराज
भारत की शिक्षा नीति 2020 में शिक्षकों और B.Ed कोर्स में बड़े बदलाव
छिंदवाड़ा में बीएमओ, सतना में बीईओ का क्लर्क और दमोह में पंचायत सचिव सस्पेंड
मध्यप्रदेश में अब कोई लॉकडाउन नहीं किया जाएगा: मुख्यमंत्री
भोपाल की हाई प्रोफाइल शादी के 250 बरातियों में से 48 लोग कोरोना पॉजिटिव
भोपाल से इटारसी तक 5 सुरंगे बनेंगी, हाई स्पीड ट्रेन चलाई जाएंगी
कोरोना पॉजिटिव कांग्रेस विधायक पीसी शर्मा के सवाल उन्हीं के सामने आकर खड़े हो गए
ग्वालियर कलेक्टर से मुख्यमंत्री खुश लेकिन मुख्य सचिव असंतुष्ट
उत्तरप्रदेश में महिला कैबिनेट मंत्री की कोरोनावायरस के कारण मौत
मध्यप्रदेश में अब कोई लॉकडाउन नहीं किया जाएगा: मुख्यमंत्री
ग्वालियर में स्वास्थ्य कर्मचारी मिथुन के खिलाफ रेप का मामला दर्ज
मध्य प्रदेश आईएफएस अफसरों की तबादला सूची


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here