Loading...    
   


विकास दुबे सोमवार को सरेंडर करना चाहता था, पहले भी कर चुका था / NATIONAL NEWS

उज्जैन। दिनांक 9 जुलाई 2020 से पहले तक उज्जैन के नागरिकों को उत्तर प्रदेश के फरार बदमाश विकास दुबे की खबरों में कोई रुचि नहीं थी और आज उज्जैन का बच्चा-बच्चा विकास दुबे से जुड़ी हर खबर को पढ़ रहा है। पता चला है कि विकास दुबे पहले भी उज्जैन आ चुका है। यहां उसकी गहरी आस्था है। वह सोमवार को सरेंडर करना चाहता था लेकिन फिर पता नहीं क्यों उसका मन बदल गया।

पुलिस बताती है कि गैंगस्टर विकास दुबे राजस्थान के झालावाड़ से बस से नौ जुलाई को तड़के 3.58 बजे धर्मनगरी उज्जयिनी (उज्जैन) पहुंचा। जिस ऑटो रिक्शा में विकास दुबे सवार हुआ था उसके चालक ने बताया कि विकास दुबे 3 दिन ठहरने की बात कर रहा था। वह पूरा उज्जैन घूमने की बात कर रहा था। विकास दुबे उज्जैन के हर मंदिर में दर्शन करना चाहता था। रुकने के लिए उसने कुछ होटल-लॉज भी देखें लेकिन फिर उसका मन बदल गया। उसने ऑटो रिक्शा वाले को मोक्षदायिनी शिप्रा नदी तट पर ले चलने को कहा।

विकास दुबे ने मोक्ष के लिए पूजा करवाई थी 

बताया जा रहा है कि मोक्षदायिनी शिप्रा नदी के तट पर विकास दुबे ने पंडितों से पूजा भी करवाई। परंपरा अनुसार यहां सुबह पूजन कराने वाले यजमान को पंडित पितरों के मोक्ष का संकल्प दिलाते हैं। विकास ने भी यही संकल्प लिया। कुछ समय शायद पंडितों को पता नहीं था कि उनका यजमान पितरों के नहीं अपने मोक्ष के लिए पूजा करवा रहा है।

पूजन के बाद विकास दुबे का चेहरा भाव शून्य हो गया था

पुलिस और कई एजेंसियों से बचता-छुपता उज्‍जैन पहुंचा विकास सामान्य श्रद्घालु की तरह दिखाई दे रहा था। उसके हावभाव देख शिप्रा तट पर पूजन कराने वाले पंडितों को जरा भी अहसास नहीं हुआ कि वे दुर्दांत अपराधी के साथ बैठे हैं। शिप्रा पर पूजन करने के बाद विकास सीधा महाकालेश्वर मंदिर पहुंचा। यहां भी उसके चेहरे पर भाव शून्य थे। वह सामान्य दर्शनार्थी की तरह व्यवहार कर रहा था। जूता स्टैंड पर चप्पल उतारना हो या बैग रखना, उसकी गतिविधियां सामान्य थीं।

पिछली बार भी यहीं सरेंडर किया था 

बताया जा रहा है कि उत्तर प्रदेश में एक मंत्री की हत्या करने के बाद विकास दुबे फरार हो गया था। उस समय भी पुलिस इसी तरह विकास दुबे को देश के कोने कोने में ढूंढ रही थी। तब विकास दुबे उज्जैन आया, शिप्रा नदी के तट पर पूजा पाठ किया फिर भगवान महाकालेश्वर के दर्शन किए और इसी प्रकार सरेंडर कर दिया था। बताते हैं कि उस मामले में उत्तर प्रदेश पुलिस ने विकास की मदद की थी। कुछ पुलिस कर्मचारियों ने बयान बदल दिए थे।

13 जुलाई को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

सचिन पायलट में सिंधिया पॉजिटिव: राजस्थान में आत्म सम्मान की लड़ाई शुरू, या तो CM बदलेंगे या सरकार
कमलनाथ को छोड़कर कांग्रेस का एक और विधायक भाजपा में शामिल
इंदौर एनकाउंटर, ASP, CSP, TI सहित पांच पुलिसकर्मी एवं दो बदमाश घायल
क्या वोल्टेज अपडाउन से चार्ज पर लगा स्मार्टफोन खराब हो जाता है
UGC COLLAGE EXAM: गाइडलाइन के बावजूद जनरल प्रमोशन का एलान
प्रद्युम्न से हारे जयभान सिंह पवैया, लक्ष्मी बाई की समाधि के सहारे
यदि कहीं कोहनी टकरा जाए तो करंट सा क्यों लगता है 
UGC COLLAGE EXAM: भारी विरोध के बाद सरकार का नया फैसला 
सिंधिया के प्रिय मंत्री सिलावट ने मोदी, योगी और शिवराज को समाज का कलंक बता दिया, वीडियो देखें, खुद सुनें
IAS बनना है तो निबंध के साथ एक बात और याद रखें: UPSC टॉपर वैशाली सिंह ने बताया 
भोपाल में माँ ने BF से चैटिंग करने मना किया तो इंपीरियल हारमनी की छठवीं मंजिल से कूदी छात्रा, मौत 
पंखा चलाने से धूल उड़ती है तो फिर पंखुड़ी पर क्यों चिपक जाती है 
सरकारी नोटिस का पालन नहीं किया तो FIR भी हो सकती है, पढ़िए कैसे 
RGPV : परीक्षाओं के लिए नई योजना तैयार, माह के अंत में होंगे एग्जाम 
मध्य प्रदेश कोरोना: आज 500 से ज्यादा पॉजिटिव, 13 जिलों में स्थिति आउट ऑफ कंट्रोल 
UGC COLLAGE EXAM: गाइडलाइन के बावजूद जनरल प्रमोशन का एलान 
दरवाजे पर चस्पा नोटिस को हटाने वाले के खिलाफ FIR में कौन सी धारा दर्ज होगी 
जबलपुर अपर आयुक्त की बेटी के विवाह में कोरोना फैला, अब तक 10 पॉजिटिव


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here