Loading...    
   


ज्योतिरादित्य सिंधिया को परिवहन एवं राजस्व विभाग में इतना इंटरेस्ट क्यों है: दिग्विजय सिंह / MP NEWS

भोपाल। मध्यप्रदेश में कांग्रेस पार्टी के एकमात्र शेष बचे दिग्गज नेता एवं सांसद श्री दिग्विजय सिंह के ट्वीट के बाद सवाल उठ रहा है कि ज्योतिरादित्य सिंधिया को परिवहन एवं राजस्व विभाग में इतना इंटरेस्ट क्यों है। इन विभागों के कारण 8 दिन तक मंत्रियों के बीच विभागों का आवंटन नहीं हो पाया। क्या इन विभागों में जन सेवा करने का अवसर दूसरे विभागों से ज्यादा है। (श्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा था कि वह जन सेवा के लिए भाजपा में आए हैं)। 

याद दिलाने की जरूरत नहीं की श्री दिग्विजय सिंह ने 9 जुलाई को कह दिया था कि सिंधियाजी परिवहन एवं राजस्व विभाग नहीं छोड़ेंगे। अब जब विभागों का बंटवारा हो गया तब श्री दिग्विजय सिंह ने ट्वीट करते हुए श्री ज्योतिरादित्य सिंधिया को फिर से निशाने पर लिया और कहा, 'आखिर 11 दिनों के ‘वर्कआउट’ के बाद 'लूट' का बंटवारा हो गया। परिवहन, राजस्व, जल संसाधन आदि गए भगोड़ों को और एक्साइज, शहरी विकास गए भाजपा को। देखते हैं 3 महीने की अंतरिम सरकार कितना अपना भला करती है और कितना जनता का। यह भी देखना है इस अंतरिम मंत्रिमंडल की कितनी बात अधिकारी मानते हैं।' 

सिंह ने एक अन्य ट्वीट में कहा, 'परिवहन और राजस्व विभाग में सिंधिया जी की इतनी रुचि क्यों है? समझदार लोग समझते हैं।' इससे पहले, कांग्रेस नेता ने कहा था, 'मध्यप्रदेश मंत्रिमंडल में विभागों के बंटवारे को लेकर पूरी भाजपा दिल्ली से लेकर भोपाल में 'वर्कआउट' कर रही है। यह मंत्रिमंडल के बंटवारे का झगड़ा नहीं है यह 'लूट' के बंटवारे का झगड़ा है। परिवहन, एक्साइज, राजस्व, शहरी विकास आदि सिंधिया जी नहीं छोड़ना चाहेंगे। क्यों? समझ जाओगे!'

काबिल-ए-गौर यह भी है क्या 

जब बात विभागों की चल रही है तो परिवहन विभाग को मध्य प्रदेश का सबसे ज्यादा मलाईदार विभाग कहा जाता है। राजनीति की कहानियां सुनाने वाले बताते हैं कि श्री दिग्विजय सिंह के शासनकाल में परिवहन विभाग से प्राप्त होने वाली अवैध आय से ना केवल कांग्रेस पार्टी का खर्चा चलता था बल्कि 'सिंह समूह' के खर्चे भी पूरे हो जाते थे। कहानियों की किताब में एक पन्ने पर भाजपा नेता प्रभात झा का एक बयान है जिसमें उन्होंने दावा किया है कि ज्योतिरादित्य सिंधिया ने राजस्व विभाग के अधिकारियों से सांठगांठ करके 622 बीघा जमीन पर कब्जा कर रखा है। (just read)

13 जुलाई को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

UGC COLLAGE EXAM: गाइडलाइन के बावजूद जनरल प्रमोशन का एलान
UGC COLLAGE EXAM: भारी विरोध के बाद सरकार का नया फैसला
यदि कहीं कोहनी टकरा जाए तो करंट सा क्यों लगता है
राजा-महाराजा मुकुट क्यों पहनते थे, कोई विज्ञान है या सिर्फ शान के लिए, पढ़िए
दरवाजे पर चस्पा नोटिस को हटाने वाले के खिलाफ FIR में कौन सी धारा दर्ज होगी
क्या वोल्टेज अपडाउन से चार्ज पर लगा स्मार्टफोन खराब हो जाता है
IAS बनना है तो निबंध के साथ एक बात और याद रखें: UPSC टॉपर वैशाली सिंह ने बताया
मध्यप्रदेश म़ंत्रियों को विभागों का आवंटन, आधिकारिक सूची
MP BOARD 12th: चूक गए छात्रों के लिए विशेष परीक्षा कार्यक्रम
इंदौर लॉकडाउन पर आपदा प्रबंधन समिति का फैसला
ग्वालियर में आउटसोर्स बिजली कर्मचारियों तनख्वाह अटकी
ग्वालियर में एक और कोरोना पॉजिटिव हॉस्पिटल की खिड़की तोड़कर फरार
भोपाल फिर से टोटल लॉकडाउन होगा, मंगलवार को होगा निर्णय
मध्यप्रदेश म़ंत्रियों को विभागों का आवंटन, आधिकारिक सूची
शपथ या प्रतिज्ञा लेने से इनकार करना किस धारा के अंतर्गत दण्डनीय अपराध है
मनुष्य के पेट में ऐसा एसिड होता है जो लोहे की कील को गला देता है
30 जून को रिटायर कर्मचारियों को 01 जुलाई में देय इंक्रीमेंट से क्यों वंचित नही किया जा सकता ?
इस बार 'महाराज' नहीं 'नाराज' के कारण अटका था मंत्रियों के बीच विभागों का आवंटन
क्या शिवलिंग पर दाल और गेहूं भी चढ़ा सकते हैं, बेलपत्र ना मिले तो क्या करें
भोपाल में हाईप्रोफाइल लोगों को नाबालिग लड़कियों की सप्लाई, रैकेट पकड़ा


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here