Loading...    
   


भोपाल में बच्चों पर बेअसर है कोरोनावायरस, रिकवरी रेट 100% / BHOPAL NEWS

भोपाल। news18 अपने मेडिकल सोर्स की स्टडी के आधार पर दावा किया है कि भोपाल में कोरोनावायरस का संक्रमण बच्चों को नुकसान नहीं पहुंचा पा रहा है। बच्चे संक्रमित होते हैं परंतु उनकी बॉडी वायरस से लड़कर जीत जाती है। बताया है कि भोपाल में 15 साल से कम उम्र के बच्चों का रिकवरी रेट 100% है। 

स्कूल बंद है तो फिर बच्चे कैसे संक्रमित हो रहे हैं

जो बच्चे कोरोना वायरस की चपेट में आ रहे हैं, वो वह अपने परिवारजनों के कारण ही संक्रमित हो रहे हैं। परिवारजनों की लापरवाही के चलते अब इन छोटे बच्चों पर भी कोरोना संक्रमण का खतरा लगातार बढ़ता जा रहा है। राजधानी भोपाल में कोरोना वायरस की शुरूआत से ही 9 दिन की बच्ची से लेकर 15 साल तक के कई बच्चे संक्रमित हुए हैं। राहत वाली बात है कि ज्यादातर बच्चे कोरोना संक्रमण से जंग जीतकर ठीक भी हुए हैं। पिछले 10 दिनों के आंकड़ों पर नजर डालें तो ये बात सामने आती है कि 1 जुलाई से लेकर 10 जुलाई के बीच में 0 साल से लेकर 15 साल के करीब 33 बच्चे संक्रमण की चपेट में आए हैं। इससे पहले 21 जून से 30 जून के बीच 0 साल से लेकर 15 साल तक के 21 बच्चे संक्रमित हुए हैं। 

बच्चों को कोरोनावायरस के संक्रमण से कैसे बचाएं

इस संबंध में गांधी मेडिकल कॉलेज के पीडियाट्रिक डिपार्टमेंट की एचओडी डॉ. ज्योत्सना श्रीवास्तव का कहना है कि घर पर भी हैंड हाइजीन का ख्याल रखना जरूरी है। समय-समय पर हाथ धोते रहें और बच्चों में हैंड वॉश की आदत डालें। घर पर भी सोशल डिस्टेंसिंग का ख्याल रखें। यदि घर में ज्यादा लोग हैं तो भी कम से कम 2 मीटर की दूरी रखें। कोरोना वायरस से बचने के लिए जो भी गाइडलाइन जारी की गई है कोशिश करें कि उसका पालन घर पर भी किया जाए, क्योंकि बच्चे जो घर पर देखते हैं वैसा ही बर्ताव बाहर भी करते हैं। 

यदि किसी व्यक्ति को घर में सर्दी खांसी जैसे लक्षण हैं तो उन्हें बच्चों से खासतौर पर दूर रहना चाहिए। बाजार जाने में भी इस बात का ध्यान रखें कि घर की जरूरतों की चीजों के लिए केवल एक ही व्यक्ति बाहर जाकर सामान की खरीदारी करे और बच्चों को भीड़भाड़ वाली जगहों पर ले जाने से बचें।

18 जुलाई को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

मांसाहारी जानवर हमेशा शाकाहारी जानवरों का शिकार क्यों करते हैं
रेलवे स्टेशन का नाम बताने वाले बोर्ड पर समुद्र तल से ऊंचाई क्यों लिखी रहती है
न्यूनतम अंतर को दर्शाने 19-20 का फर्क क्यों कहते हैं, 4-5 या 9-10 का फर्क क्यों नहीं कहते
बड़ी संख्या में प्राइवेट स्कूल छोड़कर सरकारी स्कूलों में शिफ्ट हो रहे हैं स्टूडेंट्स
इंदौर में 10 नए इलाकों में कोरोनावायरस का संक्रमण मिला
मध्य प्रदेश कोरोना: 10 जिले बेहद गंभीर, 47 जिलों में महामारी
मध्य प्रदेश: रेत माफिया ने ASI को चांटा मारा (वीडियो देखें), ट्रैक्टर-ट्रॉली छुड़ा ले गया
मध्यप्रदेश में 24वें विधायक ने कमलनाथ का नेतृत्व अस्वीकारा, इस्तीफा दिया
प्रकृति में सिर्फ मनुष्यों की आइब्रो क्यों होती हैं, जानवरों की क्यों नहीं होती ?
मध्य प्रदेश तहसीलदार/ नायब तहसीलदार की तबादला एवं प्रतिनियुक्ति सूची
कथन या वचन पर हस्ताक्षर करने से मना करने पर भी क्या FIR दर्ज हो सकती है, पढ़िए
अमित तोमर IAS को बड़वानी कलेक्टर के पद से हटाया, यह फोटो वायरल हो गया था
चांद में ऐसा क्या होता है कि उससे टकराकर सूर्य की गर्म किरणें ठंडी चांदनी में बदल जातीं हैं


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here