Loading...    
   


मध्यप्रदेश में मिडिल क्लास के पैसों से गरीबों के लिए खरीदा गया 1.25 करोड़ मैट्रिक टन गेहूं बारिश में बर्बाद / MP NEWS

भोपाल। मध्य प्रदेश के विभिन्न इलाकों में हो रही बारिश के कारण करीब 1.25 करोड़ मैट्रिक टन गेहूं बारिश में बर्बाद हो गया। यह गेहूं मिडिल क्लास द्वारा सरकार को दिए गए टैक्स की रकम से खरीदा गया था। इस गेहूं का वितरण मध्य प्रदेश के गरीब नागरिकों में होने वाला था। बताने की जरूरत नहीं की सरकारी लापरवाही के कारण करीब 1.25 करोड़ मैट्रिक टन गेहूं बारिश में बर्बाद हो गया।

प्राथमिक जानकारी: किस जिले में कितना गेहूं बर्बाद हुआ

जानकारी के मुताबिक प्रदेश में बीते 2 दिन में हुई बारिश के कारण उज्जैन में करीब 2 लाख टन, देवास में 47 हजार टन, धार में 68 हजार टन, शाजापुर में 60 हजार टन, राजगढ़ में 15 हजार, विदिशा में 11 हजार, झाबुआ में 4 हजार टन, रायसेन में दो हजार टन गीला हो गया। प्रदेश के बाकी ज़िलों में भी यही स्थिति है। 

लापरवाही या घोटाला 

यहां बड़ा सवाल यह है कि बारिश में जो गेहूं बर्बाद हुआ है वह सरकारी कर्मचारियों की लापरवाही के कारण हुआ या फिर एक सुनियोजित घोटाला है। क्योंकि मौसम विभाग ने तूफान और बारिश की सूचना पहले ही दे दी थी। महाराष्ट्र और गुजरात में तूफान से बचाव के तमाम इंतजाम भी कर लिए थे। ऐसे में यह मानना कि मध्यप्रदेश में लापरवाही हुई, गलत होगा। 

क्यों ना यह संदेह किया जाए कि जानबूझकर गेहूं को खुले में छोड़ दिया गया। अब खराब होने वाले गेहूं का वजन कांग्रेस पार्टी अपनी पॉलिटिक्स और मीडिया अपने अनुमान के आधार पर घोषित करेगी परंतु सरकारी दस्तावेजों में क्या दर्ज करना है, यह तो अधिकारियों के हाथ में है। क्या ऐसा नहीं हो सकता कि जो गेहूं बारिश में बर्बाद होने से बच गया हो, उसे भी खराब दर्ज कर दिया जाए और अच्छा गेहूं किसी अनाज माफिया के खराब हो गए कि हम उसे बदल दिया जाए।

05 जून को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

मैं कांग्रेस में लौट आया हूं 'महाराज' आने वाले हैं: सत्येंद्र यादव
छतरपुर में युवा कर्मचारी ने CMO की पत्नी को गोलियां मारीं, घटना के समय दोनों घर में अकेले थे
दिवालिया बैंक में पैसा डूब जाता है तो क्या लिया गया LOAN भी नहीं चुकाना पड़ता
सिंधिया के सवाल पर तोमर ने कहा: भाजपा किसी को पचाने में सक्षम है
CBSE 12th EXAM NOTIFICATION जारी, यहां पढ़िए
भोपाल में देह व्यापार अनलॉक, 5 लड़कियों के साथ सीहोर का किसान गिरफ्तार
धूम्रपान करने वालों के खिलाफ IPC की किस धारा के तहत FIR दर्ज होगी, क्या आप जानते हैं
इंदौर में जिस व्यापारी के यहां नोटों से भरे बोरे मिले, वो पाकिस्तानी निकला
दुनिया में जब रेजर नहीं थे, लोग सेविंग कैसे करते थे
शिवलिंग गोल होते है, फिर आधी परिक्रमा क्यों करते हैं
MP BOARD EXAM के लिए प्रवेश-पत्र जारी, यहां से डाउनलोड करें
जबलपुर में युवक ने खंडहर में नाबालिग को हवस का शिकार बनाया
चिन्ह और चिह्न में से क्या सही है और क्या गलत, प्रमाण सहित उत्तर यहां पढ़िए
SSC EXAM 2020 DATE घोषित, शेड्यूल जारी / SSC EXAM 2020 TIMETABLE
कोरोना के लक्षण दिखाई देते ही क्या करें: 1000 मरीजों का ठीक करने वाले डॉ. गोयनका के सुनिए
सीएम शिवराज सिंह गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा के घर क्यों गए, जवाब की तलाश
ग्वालियर नगर निगम ने नामांतरण शुल्क 50 से 5000 कर दिया, चेंबर ऑफ कॉमर्स नाराज
बॉयफ्रेंड के साथ भागने वाली थी विवाहिता, पति ने पत्थर पर पटककर मार डाला
चुनाव की तरह सभी कर्मचारियों को कोरोना ड्यूटी पर लगाएं: कमिश्नर ग्वालियर
पेयजल को अपवित्र करना पाप ही नहीं क्राइम भी है, पढ़िए किस धारा के तहत FIR दर्ज होती है


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here