Loading...    
   


लॉकडाउन भोपाल में जेल मुख्यालय से AC सहित अन्य सामान चोरी / BHOPAL NEWS

भोपाल। राजधानी जेल मुख्यालय में घुसकर शातिर चोरों ने एयरकंडीशनर, प्रोजेक्टर और साउंड मशीन समेत करीब एक लाख रुपए का माल चुरा लिया। इस वारदात को लॉकडाउन लागू होने के बीते 40 दिनों के भीतर अंजाम दिया गया है। अहम बात ये है कि मुख्यालय की सुरक्षा के लिए 12 फीट ऊंची बाउंड्रीवॉल है और रोजाना अलग-अलग शिफ्ट में 4 संतरी भी तैनात किए जाते हैं। जहांगीराबाद पुलिस को इस वारदात में स्टाफ की मिलीभगत का शक है। अब पुलिस इन 40 दिनों में मुख्यालय आने वाले हर व्यक्ति से पूछताछ की तैयारी कर रही है। फिलहाल पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ चोरी का केस दर्ज कर लिया है।  

एसआई नवीन पांडे ने बताया कि पुलिस ने ये कार्रवाई जेल कर्मचारी गिरजा शंकर की शिकायत पर की है। जेल प्रबंधन ने गिरजा शंकर के जरिए शिकायती आवेदन भेजा था। बताया था कि लॉकडाउन लागू होने के बाद से ही जेल मुख्यालय का दफ्तर बंद कर दिया गया है। 24 मार्च को यहां के मीटिंग हॉल में भी ताला लगा दिया गया। हॉल की सभी स्लाइडर खिड़कियां भी बंद हैं। दो दिन पहले जब कर्मचारी देखरेख के लिए मीटिंग हॉल में पहुंचे तो अंदर लगा एसी, प्रोजेक्टर और साउंड मशीन गायब थी। कर्मचारियों ने इसकी जानकारी अपने अफसरों को दी। इसके बाद एफआईआर दर्ज करवाई गई।

पुलिस को यकीन है कि इस वारदात में किसी बाहरी गैंग हाथ नहीं है। यदि बाहरी गैंग शामिल हुआ है तो उसका मददगार जेल मुख्यालय का ही है। यहां 6-6 घंटे की शिफ्ट में 4 संतरी (बंदूकधारी) 24 घंटे तैनात रहते हैं। मुख्यालय की बाउंड्रीवॉल 12 फीट की है, जिससे अंदर आना तो संभव हो सकता है, लेकिन एसी लेकर वापस जाना मुमकिन नहीं है। मुख्यालय के मुख्य गेट पर ताला लगा है, जो टूटा नहीं है।

जेल मुख्यालय के हजारों गोपनीय दस्तावेज सुरक्षित 

जेल मुख्यालय में हजारों गोपनीय दस्तावेज रखे हैं, इसके बाद भी यहां की सुरक्षा के लिए एक बार में केवल एक ही संत्री तैनात रहता है। जिस मीटिंग हॉल में वारदात हुई, वह आईजी जेल ऑफिस के पास बना है। इसके बाद भी यहां सीसीटीवी कैमरे नहीं लगे हैं। इतना वजनी सामान चोरी करने के लिए दो या इससे ज्यादा बदमाश आए होंगे। पुलिस ने बीते 40 दिनों में मुख्यालय आने वाले हर व्यक्ति की जानकारी मांगी है। पुलिस इन सभी से पूछताछ करेगी।


02 मई को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

रेंट एग्रीमेंट 11 महीने के लिए क्यों होता है, 6 या 12 महीने का क्यों नहीं होता 
रसोई गैस सिलेंडर का रंग लाल क्यों होता है, क्या इससे खाना पकाना खतरनाक है, यहां पढ़िए 
सिंधिया समर्थक पूर्व मंत्री प्रद्युम्न सिंह के बेटे का हाईप्रोफाइल ड्रामा VIDEO वायरल 
हवा फेंकने वाला पंखा गंदा क्यों हो जाता है, जबकि हवा से धूल साफ होती है 
ज्योतिरादित्य सिंधिया के कारण दीपक बावरिया से इस्तीफा लिया, मुकुल वासनिक नए प्रभारी
नाई को घर बुलाकर कटिंग/सेविंग कराने वालों के खिलाफ FIR होगी: कलेक्टर 
किसान क्रेडिट कार्ड की लिमिट बढ़ाने और ब्याज घटाने की मांग 
लॉकडाउन 3.0: पूरे भारत में शराब, पान मसाला और तम्बाकू के लिए छूट 
57 साल की महिला कर्मचारी की लव स्टोरी सुर्खियों में, लॉक डाउन में हुआ प्यार का अहसास 
अपराध या भ्रष्टाचार की झूठी जानकारी देने का मामला IPC की किस धारा के तहत दर्ज होगा, कितनी सजा मिलेगी 
लॉक डाउन बढ़ाया लेकिन शर्तें बदली, समीक्षा के बाद किया फैसला 
मध्य प्रदेश के 32वें जिले में कोरोना, आज 90 पॉजिटिव, टोटल 2715 
दिग्विजय सिंह के झूठे विश्वास के कारण हमारी सरकार गिरी: कमलनाथ (बयान वायरल होते ही यू-टर्न लिया)
TATA SKY: दो महीने की फ्री सर्विस ऑफर, डिटेल्स और लास्ट डेट के लिए ध्यान से पढ़ें
ग्वालियर में गोलगप्पे, समोसे और कचौड़ियों की होम डिलिवरी 
संसद में उल्टे पंखे किसने और क्यों लगवाए थे, आइए रहस्य की बात जानते हैं 
छिंदवाड़ा सहित तीन जिलों के कलेक्टर और भोपाल के कमिश्नर बदले 
इंदौर, 1500 के पार, 28 नए पॉजिटिव, 10 डिस्चार्ज हुए, लॉकडाउन बढ़ाया


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here