Loading...    
   


RDVV: राष्ट्रपति के लिए तैयार हो रहा है लाखों रुपए का ग्रीन रुम | JABALPUR NEWS

जबलपुर। रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय में होने वाले दीक्षांत समारोह को लेकर राष्ट्रपति के लिए विश्वविद्यालय में ग्रीन रुम का निर्माण किया जा रहा है। इसके लिए कुलपति कक्ष के एक हिस्से में तोडफ़ोड़ की जा रही है। इस कक्ष को तोडक़र कुलपति के रूम तक एक्सटेंशन किया जाएगा। इस ग्रीन रूम में सभी आवश्यक सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएंगी। इस ग्रीन रूम में राष्ट्रपति एवं राज्यपाल के अलावा किसी अन्य को प्रवेश नहीं होगा। ग्रीन रूम में वॉश बेसिन, टॉयलेट, मिरर आदि को लगाया जाएगा। २ से ३ लाख रुपए सिर्फ इसमें ही खर्च हो रहे हैं। अगले एक सप्ताह के दौरान इसका निर्माण पूरा हो जाएगा। इसके साथ विवि के मुख्य भवन, कारीडोर को भी नया नवेला बनाने में जुटा है। कोशिश की जा रही है कि जहां तक राष्ट्रपति की नजरें जाएं वहां तक विवि का छोर और भवन पूरी तरह चका-चक नजर आए।  

राष्ट्रपति के आगमन को लेकर की जा रही व्यापक तैयारियों में प्रेक्षा गृह के दिन बदल गए हैं। प्रेक्षागृह को नया नवेला बनाया जा रहा है। वहीं विश्वविद्यालय प्रशासनिक भवन को भी नया क्लेवर में सजाया जा रहा है। हालांकि अभी हाल ही में फरवरी में विश्वविद्यालय प्रशासन द्वारा नया रंग रोगन कराया गया था जिसमें उच्च शिक्षा मंत्री को विश्वविद्यालय छात्र संबोधन और शपथ ग्रहण समारोह में आना था लेकिन वे नहीं आ पाए थे। इस बीच दीक्षांत में राष्ट्रपति के आने की अनुमति मिलने के बाद अब दोबारा से रंग रोगन कर चमकाने की कोशिश की जा रही है। इंजीनियरिंग विभाग द्वारा इसके लिए लाखों रुपए खर्च किए जा

एलसीडी से होगा प्रसारण विश्विद्यालय प्रशासन ने दीक्षांत कार्यक्रम को लाइव दिखाने की भी व्यवस्था कर रहा है। विवि द्वारा दो बड़ी एलसीडी स्क्रीन लगाई जाएगी जिसमें एक विवि प्रेक्षा ग्रह के बाहर की तरफ लगाई जाएगी तो वही एक अन्य एलसीडी विज्ञान भवन में लगाने पर भी विचार किया जा रहा है ताकि दीक्षांत हाल में बेहद सीमित लोगों को प्रवेश दिया जा सके। सुविधाएं बढ़ाने पर भी हो ध्यान विश्वविद्यालय के छात्र लवदीप सिंह गहरवार, पंकजेश मिश्रा, अनुज शुक्ला आदि ने कहा कि राष्ट्रपति का दीक्षांत में आना गर्व की बात है। जिस तरह विश्वविद्यालय प्रशासन जो तैयारियां प्रशसनिक भवन और हाल तथा भवनों की रंग रोगन में कर रहा है उसी तरह विभागों में भी छात्रों की मूलभूत सुविधाओं पर भी ध्यान दे।


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here