गुरुवार को मध्यप्रदेश के विधायकों ने बेंगलुरु, जयपुर और गुरु ग्राम में क्या किया, पढ़िए | NATIONAL NEWS
       
        Loading...    
   

गुरुवार को मध्यप्रदेश के विधायकों ने बेंगलुरु, जयपुर और गुरु ग्राम में क्या किया, पढ़िए | NATIONAL NEWS

भोपाल। मध्य प्रदेश की राजनीति में इन दिनों हर दिन महत्वपूर्ण है। गुरुवार का दिन नेताओं के अलावा विधायकों के नाम रहा। सीएम कमलनाथ के सिंघम मंत्री जीतू पटवारी बेंगलुरु में कथित रूप से बंधक बनाए गए विधायकों को मुक्त कराने गए थे, पुलिस ने उन्हें धर लिया। बड़ी मुश्किल से मुक्त होकर लौटे हैं। आइए जानते हैं मध्य प्रदेश विधायक महोदय कहां हैं और क्या कर रहे हैं: 

बेंगलुरु: जो बंधक थे वह तो मुक्त नहीं हुए, बिसाहू लाल बंधक बनने चले गए 

कांग्रेस ने गुरुवार को दावा किया कि बेंगलुरु में विधायकों को बंधक बनाकर रखा गया है। कर्नाटक पुलिस से मुक्त होने के बाद जीतू पटवारी ने अपने दोस्तों से मिलने गए थे। बड़ी अजीब बातें कोई व्यक्ति क्या कभी अपने उस दोस्त से मिलने जाता है जिस को बंधक बनाकर रखा गया हो। उधर बेंगलुरु से खबर आ रही है कि किडनैप करने के बाद लग्जरी रिसॉर्ट में ठहराए गए कांग्रेस विधायकों ने टीवी पर ज्योतिरादित्य सिंधिया के ग्रैंड वेलकम का लाइव देखा और तालियां बजाई। एक खबर यह भी है कि कांग्रेस विधायक श्री बिसाहू लाल सिंह बंधक विधायकों के पास पहुंच गए हैं। यानी वह खुद बंधक बनने चले गए।

गुरुग्राम में बैठक हुई फिर विधायक हंसी मजाक करते रहे

दिल्ली एनसीआर में स्थित एक पांच सितारा होटल में भाजपा के विधायक ठहरे हुए हैं। इस बार होटल की निगरानी भाजपा की केंद्रीय टीम ने अपने पास रखी है। पिछली बार कमलनाथ सरकार के मंत्रियों ने इसी तरह होटल में ठहराया गए विधायकों को मुक्त करा लिया था। मध्य प्रदेश की तरफ से पूर्व प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह विधायकों के साथ मौजूद है। भाजपा के महासचिव कैलाश विजयवर्गीय विधायकों से मिलने पहुंचे। करीब 2 घंटे तक मीटिंग हुई। जानने की कोशिश की गई कि आगे क्या करना चाहिए। क्या किसी विधायक के पास कोई आईडिया है। इसके अलावा सभी भाजपा विधायक पूरा समय कविता, गाने और हंसी मजाक में निकाल रहे हैं। किसी भी विधायक के पास मोबाइल नहीं छोड़ा गया है। जरूरत पड़ने पर उपयोग हो रहा है। मीटिंग में विधायकों ने अपनी प्रतिबद्धता दोहराते हुए घर जाने की बात कही।

जयपुर: कमलनाथ में एक-एक करके सभी से बात की, रात में डांस पार्टी 

जयपुर में कांग्रेस 85 कांग्रेस विधायकों को 2 रिसोर्ट में ठहराया गया है। इनकी निगरानी राजस्थान के मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत व्यक्तिगत रूप से देख रहे हैं फिर भी कमलनाथ को किसी पर भरोसा नहीं रहा। गुरुवार को उन्होंने एक-एक करके सभी विधायकों से बात की। रात को विधायकों के मनोरंजन के लिए डांस पार्टी का आयोजन किया गया। कुछ महिलाएं बुलाई गई जिनके साथ कोरोना वायरस का खतरा होने के बावजूद विधायकों ने काफी नजदीक जाकर डांस किया।