Loading...    
   


मुख्यमंत्री कमलनाथ अड़ गए: मैं फ्लोर टेस्ट क्यों दूं | MP NEWS

भोपाल। राजभवन और मुख्यमंत्री निवास में अब सीधा टकराव शुरू हो गया है। राज्यपाल श्री लालजी टंडन के द्वारा दूसरा पत्र लिखने के बाद मुख्यमंत्री कमलनाथ उनसे मिलने राजभवन गए। लौटकर मीडिया से बात करते हुए स्पष्ट रूप से कहा कि मैं फ्लोर टेस्ट क्यों दूं। यदि किसी को लगता है कि सरकार अल्पमत में है तो वह अविश्वास प्रस्ताव ला सकता है। कुल मिलाकर मुख्यमंत्री कमलनाथ अपनी बात पर अड़ गए हैं। अब गेंद राज्यपाल के पाले में है। 

पत्रकारों को राज्यपाल से मुलाकात का विवरण देते हुए मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा कि हमने वर्तमान राजनीतिक मुद्दों पर चर्चा की। मैंने उन्हें विधानसभा में अभिभाषण के लिए धन्यवाद दिया। मैंने कहा कि हम संविधान के भीतर किसी भी चीज के लिए तैयार हैं लेकिन संविधान के दायरे से बाहर नहीं जा सकते। आज की तारीख में उपस्थिति के अनुसार हमारे पास संख्या है। 

मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा कि यदि कोई कहता है कि हमारे पास बहुमत नहीं है तो वह अविश्वास प्रस्ताव ला सकता है। मुख्यमंत्री कमलनाथ ने दोहराया कि मैं आगे बढ़कर फ्लोर टेस्ट क्यों दूं। श्री कमलनाथ ने यह भी कहा कि कांग्रेस के 16 विधायकों को क्या समस्या है। उन्हें सामने आना चाहिए और अपनी बात रखना चाहिए।


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here